Home » अजब गजब » Adopted woman searches for her long-lost sister in USA only to learn she living next door
 

बचपन में बिछड़ी बहन की खोज में लगा दिए सात साल, घर के पास ऐसे हुई अचानक मुलाकात

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 June 2018, 11:34 IST

बचपन में गोद लिए गए बच्चे जब बड़े हो जाते हैं, तो कई बार वो अपने उन मां-बाप से मिलना चाहते हैं जिन्होंने उन्हें जन्म दिया. ऐसा ही कुछ हिलेरी हैरिस के साथ हुआ. दरअसल, जब हिलेरी हैरिस एक बच्ची थीं, तब उन्हें गोद लिया गया था. जब वो बड़ी हुईं तो अपने जन्म देने वाले मां-बाप को खोजने लगीं. कई सालों की खोजबीन के बाद भी उनकी सर्च खत्म नहीं हुई.

उन्हें पता चला कि उनकी एक बहन भी थी. वो ये भी जानती हैं कि उनकी बहन का नाम गोद लिए जाने वाले बच्चों की लिस्ट में था, बावजूद इसके हिलेरी अपनी बहन को खोज नहीं पाईएक रात हिलेरी गूगल पर अपनी बहन का नाम डॉन जॉनसन खोज रही थीं, जहां उन्हें जॉन जॉनसन नाम के हजारों लोगों की फेसबुक तस्वीरें दिखाई दीं. उसक बाद उन्होंने उन तस्वीरों में से खुद का चेहरा मिलाने की कोशिश की, कि शायद किसी से उनका चेहरा मिलता हो.

तब पिछले साल एक दिन उनके साथ एक घटना घटी. एक दंपति हैरिस विस्कॉन्सिन में हैरिस और उनके पति इउ क्लेयर के घर आए. महिला का नाम डॉन था और वह विस्कॉन्सिन के ग्रीनवुड से थी. अडॉप्शन फाइल के मुताबिक हैरिस की बहन वहीं रहती थी. हैरिस अपने पति के पास पहुंचीं.

वॉशिंगटनपोस्ट को दिए इंटरव्यू के मुताबिक, हिलेरी हैरिस ने अपने पति से कहा मैं लांस की तरह हूं, उसका नाम डॉन है! वो भी ग्रीनवुड से हैं. हैरिस को बिल्कुल अंजादा नहीं था कि उनकी पड़ोसी डॉन से इनका कोई संबंध है. वो डॉन का सरनेम नहीं जानती थीं. लेकिन हैरिस उन्हें अक्सर देखा करती थीं. क्योंकि उन दोनों के घरों के लिए एक ही रास्ता था.

हैरिस, डॉन और उसके पति कार्ट कैस्परसन को दूर से देखना चाहती थीं. जो अपने घर की छत पर काम कर रहे थे. 31 साल की हैरिस ने अपने नए पड़ोसियों से ज्यादा बात नहीं की. क्योंकि डॉन 50 साल की थीं और उनसे बड़ी थींहैरिस करती हैं कि मैं हमेशा उसे देखा करती और सोचती कि क्या वह मेरी बहन है. लेकिन मैं कभी हिम्मत नहीं कर पाई कि उससे कुछ पूछूंमैं अपनी जिंदगी में खुशिया चाहती थी. इसी तरह आठ महीने गुजर गए. वो सोचती रहीं कि वो कभी उनसे बात करेंगे लेकिन ऐसा कभी नहीं हुआ.

पिछले साल अगस्त में डॉन और कर्ट ने अपने घर की छत पर कुछ मिला जिसपर एक बड़े लाल रंग के अक्षरों में लिखा था तुम्हारे पड़ोसी का नाम डॉन जॉनसन है.

जब हैरिस ने उसे देखा तो हैरान रह गई. उसने तुरंत अपने पति को बुलाया और कहा कि वो मिल गई उसका नाम डॉन जॉनसन हैं. उनके पति ने बताया कि ये डॉन जॉनसन से बात करने का सही वक्त था. वो सोच रहे थे कि हो सकता है कि ये वहीं महिला हो जिसे हेरिस ढूंढ रही थी. लेकिन हैरिस ने कहा कि मैं उनसे बात नहीं करूंगा क्योंकि उन्हें डर था कि कहीं वो उसे पहचानने से इंकार ना कर दे.

लेकिन उनके पति के कहने पर वो उनसे बात करने गई, डॉन से हिलेरी हैरिस को नजदीक से देखा. उसके बाद दोनों अपने पुराने वाले घर पहुंचीं जहां उनके मां-बाप रहा करते थे. उसके बाद दोनों बहनों ने एक दूसरे को पहचान लिया. उसके बाद दोनों ने एक दूसरे को अपना मोबाइल नंबर एक्सचेंज किया. उसके बाद जॉनसन अगले दिन हैरिक के घर फूलों का गुलदस्ता और अपने पिता के फोटो लेकर हेरिस के घर पहुंचीं. हैरिस को पता था कि उनके पिता का नाम वे क्लाउज था. जिनकी साल 2010 में मृत्यु हो गई.

ये भी पढ़ें- पुलिस भर्ती के लिए कम पड़ रही थी लंबाई, युवक ने अपनाया ये तरीका और पहुंच गया जेल

First published: 30 June 2018, 11:34 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी