Home » अजब गजब » Ajab Gajab News: Corona positive 43 times, remained infected for 10 months, finally defeated the virus
 

अजब: 43 बार निकला कोरोना पॉजिटिव, 10 महीने तक रहा संक्रमित, आखिरकार वायरस को दे दी मात

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 July 2021, 13:52 IST
Coronavirus story (catch news)

Ajab Gajab News: कोरोना वायरस की चपेट में आने के बाद इंसान की जिंदगी नरक सी हो जाती है. वहीं एक व्यक्ति 10 महीने तक लगातार कोरोना पॉजिटिव रहा. इस दौरान 43 बार टेस्ट में वह पॉजिटिव आया. यह शख्स हैं ब्रिटेनके 72 वर्षीय रिटायर्ड ड्राइविंग टीचर डेव स्मिथ. इनके संघर्ष की कहानी जानकर आपके रोंगटे खड़े हो जाएंगे.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, डेव स्‍मिथ करीब 10 महीने तक कोरोना से संक्रमित रहे. इस दौरान उन्हें बचाने के लिए 7 बार अस्‍पताल में भर्ती करना पड़ा. वह दुनिया के पहले ऐसे व्‍यक्ति बन गए हैं, जिन्‍हें लगातार इतने दिनों तक कोरोना संक्रमण रहा. डॉक्‍टर्स और दुनियाभर के विशेषज्ञ भी उनकी कोविड से लड़ने की ऐसी हिम्‍मत देखकर हैरान हैं. लोग अब स्मिथ को मिरेकल मैन (Miracle Man) कह रहे हैं. 

10 महीनों तक कोविड संक्रमित होने के दौरान स्मिथ का 43 बार टेस्‍ट किया गया, जिसमें वह हर बार कोविड पॉजिटिव आए. 7 बार तो उनकी जान बचाने के लिए उन्‍हें हॉस्पिटल में एडमिट कराना पड़ा. एक बार तो उनकी हालत इतनी ज्यादा बिगड़ गई थी कि घरवाले उनके अंतिम संस्‍कार की योजना बनाने लगे थे.

घट गया 60 किलो वजन 

स्मिथ के लिए एक साल काफी भयावह रहा था. घर पर उनके साथ उनकी पत्नी भी क्‍वारंटीन रहीं. उनकी पत्‍नी ने बताया कि यह एक साल उनके परिवार के लिए नरक जैसा रहा. कई बार ऐसा लगता था कि इससे वे लोग बाहर नहीं निकल पाएंगे. पत्नी ने बताया कि वह कई-कई घंटों तक खांसते रहते थे. एक बार तो वह 5 घंटे से ज्यादा समय तक खांसते रहे थे.

बता दें कि कोरोना वायरस से लड़ने के लिए स्मिथ को एक विशेष एंटीबॉडी ट्रीटमेंट दी गई थी. उनका वजन 60 किलो से ज्‍यादा घट गया है और वह बहुत कमजोर हो गए हैं. स्मिथ ने बताया कि उन्हें भयानक खांसी हुई थी. एक बार तो बिना रुके 5 घंटे तक खांसता रहा था. इस दौरान सांस रुकना या बीच में खांसी में ब्रेक आना जैसा भी नहीं हुआ. यह सब बहुत भयावह था. 

बता दें कि स्मिथ को ल्‍यूकेमिया हो चुका है. उनकी कीमोथैरेपी के कारण इम्‍युनिटी बहुत कमजोर हो गई है. डॉक्टरों ने उन्‍हें ठीक न होता देख अमेरिकी दवा कंपनी रेजेनरॉन द्वारा बनाई गई दवाओं का एक कॉकटेल दिया था. इसका इस्तेमाल पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के इलाज में किया गया था. इसके बाद ही 2 हफ्ते में उनकी हालत सुधरने लगी थी और फिर उनका कोविड टेस्‍ट निगेटिव आ गया. 

Coronavirus: वैक्सीन की दोनो डोज लगवाने के बाद भी कोविड-19 से संक्रमित हुए ब्रिटेन के स्वास्थ्य मंत्री

सरकार की चेतावनी- 3 से 4 महीने कोविड लड़ाई में महत्वपूर्ण, लोगों ने मास्क पहनना कर दिया है कम

First published: 18 July 2021, 13:51 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी