Home » अजब गजब » American City Metsamor's people lives in fear all the time due ot Nuclear Reactors
 

इस शहर पर मंडराता रहता है हर वक्त मौत का खतरा, खौफ के साए में कट रही जिंदगी

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 January 2020, 16:24 IST

Metsamor city America: दुनिया के हर देश ने न्यूक्लियर एनर्जी (Nuclear Energy) के लिए अपने यहां प्लांट्स लगाए. इनमें से मेट्समोर के न्यूक्लियर पावर प्लांट को दुनिया का सबसे खतरनाक प्लांट बताया गया. क्योंकि इस प्लांट को जहां बनाया गया है वह भूकंप के लिहाज से संवेदनशील क्षेत्र है. ये अर्मेनिया की राजधानी येरेवन से केवल 35 किलोमीटर दूर है.

यहां से टर्की की सरहद के उस पार बर्फ से ढंके माउंट अरारात की झलक साफ दिखती देती है. इस प्लांटको 1970 के दशक में बनाया गया था. जिसका सहयोग चेरनोबिल ने किया था. उन दिनों मेट्समोर रिएक्टर से विशाल सोवियत संघ की ऊर्जा की बढ़ती जरूरतें पूरी होती थीं.


बता दें कि साल 2000 में सोवियत संघ ने अपनी जरूरत की 60 फीसदी बिजली परमाणु ऊर्जा से बनाने का लक्ष्य रखा था. इससे पहले साल 1988 में यहां सब कुछ बदल गया था. दरअसल, 6.8 तीव्रता के भूकंप ने अर्मेनिया में तबाही मचा दी थी. इस भूकंप में करीब 25,000 लोग मारे गए थे. सुरक्षा कारणों से परमाणु बिजलीघर को बंद कर दिया गया. क्योंकि प्लांट के सिस्टम में बिजली की आपूर्ति में बाधा आ रही थी. उसके बाद मेट्समोर रिएक्टर में काम करने वाले कई कर्मचारी पोलैंड, यूक्रेन और रूस में अपने घर लौट गए.

ये प्लांट आज भी चर्चा का विषय है. इसके एक रिएक्टर को साल 1995 में दोबारा शुरू किया गया, जहां से अर्मेनिया की जरूरत की 40 फीसदी बिजली मिलती है. आलोचकों का कहना है कि यह परमाणु रिएक्टर अब भी बहुत खतरनाक है क्योंकि यह जिस इलाके में बना है, वहां भूगर्भीय हलचल होती रहती है. वहीं कुछ लोग इसका समर्थन भी करते हैं. जिसमें सरकारी अधिकारी भी शामिल हैं. उनका कहना है कि रिएक्टर को मूल रूप से स्थायी बैसाल्ट ब्लॉक के चट्टानों पर बनाया गया है. पहले ये बहुत सुरक्षित था लेकिन इसमें बदलाव के चलते लोगों की जिंदगी खतरे में पड़ गई.

भारत में पहली बार जब महिलाओं को सुनाई गई फांसी की सजा, इनके अपराध की कहानी सुनकर कांप जाऐंगे आप

आपके घर में भी हैं तो तुरंत करें बाहर, ये चीजें आपको बना देंगी कंगाल, पैसे आने में सबसे बड़ी रुकावट

खौफनाक: लगातार रो रहा था बच्चा, चुप कराने के लिए मां ने उसके होठों पर लगा दिया फेविक्विक

First published: 18 January 2020, 16:22 IST
 
अगली कहानी