Home » अजब गजब » Are you also troubled with the message of Gud Morning, Google said the solution, Hindi news, Latest news in hindi
 

सुबह-सुबह गुड मॉर्निंग के इरीटेटिंग मैसेजोंं से गूगल दिलाएगा छुटकारा

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 January 2018, 10:48 IST

गूगल ने अपने एक रिसर्च में पाया है कि भारत के स्मार्टफोन यूजर रोज इतनी बड़ी संख्या में गुड़ मॉर्निंग भेजते हैं कि देश के 30% लोगों के फोन की मेमोरी सिर्फ इन्ही मैसेज से फुल हो जाती है. इन मैसेज में बड़ी संख्या में फोटो और वीडियो शामिल होते हैं. रिपोर्ट के अनुसार वॉट्सएप, फेसबुक से भेजे जाने वाले गुड मॉर्निंग, गुड नाइट या त्योहारों की बधाई वाले मैसेज और फोटो का चलन लगातार बढ़ रहा है.

अखबार वाल स्ट्रीट जर्नल के अनुसार जब सिलिकॉन वैली स्थित गूगल के ऑफिस ने यह पता लगाने की कोशिश की तो वह जानकर हैरान थे कि भारत में रोज हजारों लोग पहली बार इंटरनेट से जुड़ते हैं और उनका ऑनलाइन व्यवहार भी एक जैसा होता है.

 

रिसर्च में यह भी पाया गया कि भारतीय अपने रिश्तेदारों-दोस्तों को सबसे ज्यादा गुड मॉर्निंग या गुड नाइट जैसे मैसेजेस भेजते हैं. यही नहीं इसी वजह से पिछले 5 सालों में गूगल पर गुड मॉर्निंग इमेज के सर्च वालों  की संख्या 10 गुना बढ़ी है. रिसर्च में पाया गया  कि इसीलिए विजुअल सर्च पिन्टरेस्ट में भी बड़ा हुआ है. इसके लिए साइट पर नया सेक्शन जोड़ा है, जिसमें फोटो के साथ लिखा होता है.

 

क्या है समाधान

गूगल का कहना है कि इसके लिए एक समाधान भी उपलब्ध है. फाइल्स गो ऐप. ऐसे  मैसेजों को ऑटोमैटिक डिलीट कर देता है. गूगल ने अपने विशाल डेटाबेस में आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस की मदद से इस ऐप को ये काम करने के लिए ट्रेनिंग दी है.

First published: 24 January 2018, 10:48 IST
 
अगली कहानी