Home » अजब गजब » bloodwood tree bleeds just like humans blood
 

अनोखा पेड़ जिसे काटने पर इंसानों की तरह निकलने लगता हैं खून

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 June 2020, 15:10 IST

दक्षिण अफ्रीका में एक अजीबो गरीब तरह का पेड़ पाया जाता है.जिसे लोग ब्लडवुड ट्री के नाम से भी जानते है. इस पेड़ को ब्लडवुड ट्री इसलिए भी कहते हैं क्योंकि अगर इस पेड़ को काटा जाए या इसकी कोई डाली अगर टूट जाए जो उस जगह से गहरे लाल रंग का पदार्थ निकलने लगता है. जो खून जैसा होता है लेकिन खून नहीं होता है.

जंगल में आराम फरमा रहा था कुत्ता, तभी कर दिया तेंदुआ ने हमला, वीडियो में देखें फिर हुआ क्या


इस अनोखे से पेड़ की लंबाई 12 से 18 मीटर तक होती है. पेड़ के ऊपर पत्तों और टहनियों का आकार इस तरीके से बना होता है जैसे वहां कोई छतरी लगी हो. इस पेड़ के पत्ते काफी घने होते हैं और इस पर पीले रंग के फूल भी खिलते हैं. इस पेड़ की खासियत ये है कि इसकी लकड़िया आसानी से मुड़ जाती हैं और सिकुड़ती भी नहीं है. इस लकड़ी के फर्नीचर काफी महंगे मिलते हैं. 

इस पेड़ से लाल रंग का पदार्थ निकले के चलते लोग इसे जादुई पेड़ भी मानते हैं, क्योंकि इसका इस्तेमाल दवाई के रूप में भी किया जाता है. यह इंसानों के खून संबंधी बीमारियों को ठीक कर देता है. इसमें दाद से लेकर आंखों की परेशानी, पेट की समस्या, मलेरिया और गंभीर चोटों को भी ठीक करने की ताकत है.

एक गांव ऐसा जहां रहती हैं सिर्फ एक ही महिला, दिलचस्प है वजह

इस पेड़ को लोग कई नामों से जाना जाता है, जैसे कि- किआट मुकवा, मुनिंगा. इसका वैज्ञानिक नाम सेरोकारपस एंगोलेनसिस है. यह अनोखा पेड़ मोजाम्बिक, नामीबिया, तंजानिया और जिम्बाब्वे जैसे देशों में पाया जाता है. 

वहीं इस पेड़ को कुछ लोक जादुई पेड़ भी मानते हैं, क्योंकि इस पेड़ की लड़कियों का इस्तेमाल दवाई के रूप में भी किया जाता है. कहा जाता है कि इस पेड़ की लकड़िया इंसानों के खून संबंधी बीमारियों को भी ठीक कर देता है. जैसे दाद से लेकर आंखों की परेशानी, पेट की समस्या, मलेरिया और गंभीर चोटों को भी ठीक करने की ताकत होती है.

धरती पर हुआ था सामूहिक विनाश, एक्सपर्ट का दावा- ओजोन लेयर में छेद की वजह से आने वाला है महाप्रलय

First published: 29 June 2020, 15:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी