Home » अजब गजब » bomja is the richest village of asia, government gives compensation to villager's
 

ये है एशिया का सबसे धनी गांव जहां के लोग रातोंरात बन गए करोड़पति

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 February 2018, 13:53 IST

गांव की जिंदगी तमाम मुश्किलों से भरी होती है. गांव में रहने वाले लोगों को अक्सर गरीब और किसान ही समझा जाता है. यहां रहने वाले लोग चंद पैसों के लिए भारी मेहनत करते हैं, लेकिन हमारे देश में एक ऐसा भी गांव है जहां आपको ढूंढने से भी कोई गरीब इंसान नहीं मिलेगा. यहां रहने वाला हर आदमी करोड़पति है. ये गांव एशिया महाद्वीप का सबसे अमीर गांव है.

ये भी पढ़ें- 'आसमान में बिजली चमकी तो यकीन हो गया कि सारा तेंदुलकर से प्यार करता हूं'

कहां है एशिया का सबसे अमीर लोगों का गांव

ये गांव अरुणाचल प्रदेश के तवांग जिले में है. इस गांव का नाम है बोमजा. वैसे बोमजा गांव के लोग पहले आम गांववालों की तरह ही थे, लेकिन इस गांव को सरकार ने मालामाल कर दिया. दरअसल, सरकार ने इस गांव के किसानों की जमीन को अधिगृहित किया था. बोमजा गांव में जमीन अधिग्रहण कर सरकार ने गांव वालों को 40 करोड़ 80 लाख 38 हजार400 रुपये मुआवजे के तौर पर दिया. इससे इस गांव का हर शख्स करोड़पति बन गया.

बोमजा गांव में रहते है सिर्फ 31 परिवार

अरुणाचल प्रदेश के इस गांव में सिर्फ 31 परिवार रहते हैं. ऐसे में सरकार की ओर से मिले मुआवजे के रुपयों ने इस गांव के लोगों को करोड़पति का दर्जा दे दिया. गांव के 31 परिवारों में से सरकार ने 29 परिवारों को 1,09,03,813.37 रुपये मुआवजा दिया. वहीं बाकी के 2 परिवारों में से एक परिवार को 2,44,97,886.79 रुपये दिये गए और दूसरे परिवार को 6,73,29,925.48 रुपये मुआवजा दिया गया.

क्यों अधिगृहित की गई बोमजा गांव की जमीन

बोमजा गांव के किसानों की जमीन अधिगृहित कर सरकार ने गांव वालों को मालामाल कर दिया. अब सरकार इस जमीन पर भारतीय सेना के जवानों के लिए घर बनाने जा रही है. उसके बाद यहां सेना की एक यूनिट को भी स्थापित किया जायेगा. जिससे तवांग क्षेत्र में सुरक्षा व्यवस्था पहले से अधिक दुरुस्त हो जाएगी. बतादें कि तवांग भारत के बेहद संवेदनशील इलाकों में एक है. इस इलाके में चीन की हमेशा टेढ़ी नजर रहती है.

First published: 15 February 2018, 13:53 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी