Home » अजब गजब » Coronavirus: A man Vishnu cremated 68 dead bodies amid COVID-19 positive in Rajasthan
 

Coronavirus: अपने ही परिवारवालों की डेड बॉडी नहीं ले जा रहे लोग, इन्होंने किया 68 लोगों का अंतिम संस्‍कार

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 May 2020, 20:11 IST

Coronavirus: कोरोना वायरस की चपेट में आकर देश में हजारों लोगों की मौत हो चुकी है. इसके खौफ का आलम यह है कि लोग अपने ही लोगों की डेड बॉडी को ले जाने से डरते हैं. देश में कोरोना संक्रमण के अब तक 1.31 लाख मामले सामने आ चुके हैं. इसके अलावा आज तक 3867 लोगों ने इसकी चपेट में आकर अपनी जान गंवा दी है.

दूसरी तरफ, देश में ऐसे कई लोग हैं जो खौफ की वजह से कोरोना वायरस संक्रमितों की मौत के बाद उनकी डेड बॉडी भी नहीं ले जा रहे हैं. लोगों को खौफ है कि यदि वो कोरोना से मृत लोगों की बॉडी ले जाएंगे तो उन्हें भी कोरोना हो जाएगा. इस कारण कई जगह दर्जनों मरीजों की डेड बॉडी ले जाने वाला कोई नहीं है.

ऐसे में जयपुर के एक शख्‍स विष्‍णु कोरोना संक्रमितों की डेड बॉडी का अंतिम संस्‍कार करने का काम कर रहे हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, विष्णु और उनकी टीम ने मिलकर अब तक 68 कोरोना संक्रमितों की मौत के बाद उनका अंतिम संस्‍कार किया है.

विष्‍णु को कोरोना वायरस संक्रमितों का अंतिम संस्‍कार करने के कारण वॉरियर कहा जा रहा है. बता दें कि कोरोना से जंग में पहली पंक्ति में खड़े डॉक्‍टर्स, नर्स, सफाईकर्मी, पुलिसकर्मी तथा मीडियाकर्मियों को कोरोना वॉरियर्स कहा जाता है. इस तरह विष्‍णु को भी कोरोना वॉरियर का दर्जा दिया गया है.

विष्‍णु के साथ उनकी पूरी बड़ी टीम कोरोना संक्रमित मृतकों का अंतिम संस्‍कार करती है. विष्‍णु औेर उनकी टीम धर्म और जाति देखे बिना यह काम करती है.

कोरोना की स्वदेशी वैक्सीन को लेकर भारतीय विशेषज्ञों ने कही ये चौंकाने वाली बात

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ को बम से उड़ाने की धमकी देने वाला युवक मुंबई से गिरफ्तार

First published: 24 May 2020, 20:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी