Home » अजब गजब » Doctors Pluck 11 Live Worms In Five Month Old Baby Eye
 

पांच महीने के बच्चे की आंख से निकली ऐसी चीज, वीडियो देखकर आप भी रह जाएंगे दंग

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 October 2018, 16:45 IST

चीन में एक बच्चे के मां-बाप उसे जब डॉक्टर को दिखाया तो हैरान रह गए. क्योंकि बच्चे की आंख में कई कीड़े पाए गए. इस दंपति का पांच महीने के बच्चा कई दिनों से आंखों को मल रहा था. क्योंकि उसकी आंख में कीड़ों की वजह से दर्द और खुजली हो रही थी. इस वजह से बच्चा लगातार रो रहा था. जब उन्होंने बच्चे की आंख में कीड़े देखे तो परेशान हो गए. वो बच्चे को लेकर डॉक्टर के पास पहुंचे.

अस्पताल में जब डॉक्टर ने बच्चे को देखा तो वो भी हैरान रह गए. डॉक्टरों का मानना है कि मेडिकल का यह बेहद अजीबोगरीब मामला है. डॉक्टरों ने बच्चे की आंख में 11 कीड़े निकाले. इसके लिए डॉक्टरों को बच्चे की आंख की सर्जरी करनी पड़ी. बच्चे की आंख में कीड़े होने की बात डॉक्टरों के भी समझ में नहीं आ रही.

ये भी पढ़ें- होमवर्क के बारे में पूछने पर छात्र ने टीचर पर तान दी पिस्तौल और फिर…

परिवार वालों ने डॉक्टर को बताया कि जन्म के वक्त से लेकर अब तक बच्चा एकदम स्वस्थ था फिर अचानक ये कीड़े कहां से आ गए. परिजन डॉक्टरों से जानना चाहते थे कि आखिर ऐसा कैसे हुआ. ताकि आगे के लिए बच्चों को सेफ रखा जा सके. इसके बाद डॉक्टरों ने उन्हें जो बात बताई वह सुनकर तो उनके होश उड़ गए.

डॉक्टरों ने बच्चे का निरीक्षण किया और बताया कि दांग डोंग नामक इस बच्चे को नेमाटोड संक्रमण हुआ है. जो आंखों की सतह पर और पलक के अंदर फैला है. इससे उसे आखों में तेज खुजली होने लगती है. इस संक्रमण के दौरान आंखों में कीड़े पैदा हो जाते हैं. डॉक्टरों ने बताया कि इंसानों में यह बीमारी नहीं पाई जाती. ये बीमारी जानवरों में फैलती है. उन्होंने बताया कि ऐसा बिलकुल हो सकता है कि बच्चे को यह बीमारी उनके कुत्ते से हुई हो.

ये भी पढ़ें- शुभ मुहूर्त देखकर चोरी करता था ये चोर, जानकर पुलिस की रह गई हैरान

फिलहाल बच्चे की सर्जरी कर उसकी आंखे से 11 जिंदा कीड़े निकाले जा चुके हैं. अब उसे आराम है. बीते 17 अक्टूबर को इस ऑपरेशन की एक वीडियो भी फिल्माई गई थी जो डॉक्टरों ने सोशल मीडिया पर शेयर की गई है. यह वीडियो अब वायरल हो रहा है. डॉक्टर बताते हैं कि तकरबीन 100 साल पहले चीन में पहली बार एक परजीवी नेमाटोड खोजा गया था, जिससे यह बीमारी फैली थी.

First published: 23 October 2018, 16:45 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी