Home » अजब गजब » Excavation treasure filled with gold coins 1000 years old, experts shocked
 

खुदाई में निकला 1000 साल पुराना सोने के सिक्कों से भरा खजाना, इससे खरीदा जा सकता था शानदार घर

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 August 2020, 16:18 IST

इजरायल के कुछ युवाओं ने एक हजार से अधिक वर्षों से मिट्टी के बर्तन में रखे सैकड़ों सोने के सिक्कों का पता लगाया है. इजरायल में इस खजाने की खोज 18 अगस्त को की गई थी. इजरायल एंटीक्विटीज अथॉरिटी ने सोमवार को कहा कि मध्य इजरायल में एक खुदाई में युवा वालंटियर्स ने इस खजाने को ढूंढ निकाला है. रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक खुदाई निदेशक (excavation director) Liat Nadav-Ziv ने कहा "जिस व्यक्ति ने 1,100 साल पहले इस खजाने को दफन किया था, उसने इसे वापस पाने की उम्मीद की होगी''.

डायरेक्टर ने कहा ''खजाने को इस तरह बांधकर रखा गया था ताकि वह हिल न सके. इस खजाने को पूरी सुरक्षा के साथ रखा गया था''. उन्होंने कहा ''हम केवल अनुमान लगा सकते हैं कि इस खजाने को वापस निकालने के लिए उसे किसने रोका होगा. जबसे यह खजाना छिपाया गया था तब से इसके मालिक की पहचान एक रहस्य है''. खजाना पाने वाले एक वालंटियर ने कहा यह हमारे लिए बेहद अद्भुत था. उसने कहा "मैंने जब जमीन में खुदाई शुरू की तो, मिट्टी के नीचे मैंने देखा बहुत पतले पत्ते की तरह कुछ दिखाई दे रहा था. जब मैंने फिर से देखा तो पाया कि ये सोने के सिक्के थे. ऐसा विशेष और प्राचीन खजाना मिलना वास्तव में रोमांचक था."


एंटीसिटी अथॉरिटी के एक कॉइन एक्सपर्ट रॉबर्ट कूल ने कहा नौवीं शताब्दी के अब्बासिद खलीफा की अवधि में 425 शुद्ध 24 कैरेट सोने के सिक्के उस समय एक महत्वपूर्ण राशि होते थे. उदाहरण के लिए इस तरह की राशि से कोई भी व्यक्ति एक शानदार घर खरीद सकता है, उन दिनों में मिस्र की बड़ी समृद्ध राजधानी हुआ करती थी.

इससे पहले भी इजराइल के पुरातत्वविदों ने 1,200 साल पुराने सात सोने के सिक्कों की खोज की थी. इजराइल एंटीक्विटीज अथॉरिटी (IAA) ने बताया कि यह प्रारंभिक इस्लामिक काल के सिक्के यवन शहर में खुदाई के दौरान मिले . इन सिक्कों में से एक में सोने की दीनार थी, जो खलीफा हारुन अल-रशीद के समय का है. खलीफा ने 786-809 ईस्वी के बीच शासन किया था. 

पाकिस्तान का उच्चायुक्त निकला असली 'नटवरलाल', इंडोनेशिया में बेच दी पाकिस्तानी एम्बेसी

First published: 24 August 2020, 15:59 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी