Home » अजब गजब » Father of All Bombs (FOAB) is four times dangerous & explosive than MOAB (Mother of all bombs) used by US Army in Afghanistan
 

'बापू हानिकारक है': बमों की अमेरिकी मां से ज्यादा खतरनाक है रूसी बाप

अमित कुमार बाजपेयी | Updated on: 14 April 2017, 21:49 IST

आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (ISIS) को नेस्तानाबूद करने के लिए बृहस्पतिवार को अमेरिका ने अफगानिस्तान पर कथितरूप से दुनिया का सबसे बड़ा गैर परमाणु बम गिराया. इसे 'Mother of All Bombs' यानी 'सभी बमों की मां' का नाम दिया गया है. लेकिन दुनिया के सबसे बड़े गैर परमाणु बम का नाम असलियत में 'Father of All Bombs' है.

दरअसल अमेरिका द्वारा अफगानिस्तान पर गिराए गए MOAB का कोड नेम GBU-43 है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इस अभियान को बेहद सफल करार देते हुए कहा कि उन्होंने ही अफगानिस्तान में इस बम को गिराने की स्वीकृति दी थी. अफगानिस्तान के नंगरहार क्षेत्र में इस बम के हमले से 36 ISIS आतंकी मारे गए.

व्हाइट हाउस में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा, "यह वास्तव में एक सफल अभियान साबित हुआ. हमारी सेना पर हमें गर्व है. मुझे नहीं पता कि इससे उत्तर कोरिया को कोई संदेश मिलता है या नहीं. लेकिन इससे कोई अंतर नहीं पड़ता. उत्तर कोरिया एक समस्या है और इस समस्या का समाधान निकाला जाएगा."

 

लेकिन अगर बात करें इस अभियान के लिए बमो की मां यानी GBU-43/B की तो इसका वजन 21,600 पाउंड यानी करीब 9,797 किलोग्राम था. इसका विस्फोट 11 टन TNT के बराबर होता है.

ग्लोपल पोजिशनिंग सिस्टम (जीपीएस) गाइडेड यह बम बिल्कुल अपने सटीक निशाने तक पहुंच गया. हालांकि इस बम का निर्माण अमेरिकी सेना के अल्बर्ट वेईमोर्ट्स ने किया था और सबसे पहली बार इसका परीक्षण 2003 में किया गया था.

परीक्षण के बाद 2003 में इसे बनाया गया था और उस दौरान अमेरिका की इराक से लड़ाई चल रही थी. लेकिन फिर भी इसे इस्तेमाल नहीं किया गया था. इतना ही नहीं अमेरिका ने अफगानिस्तान से पहले किसी भी युद्ध में इसका इस्तेमाल नहीं किया.

Father of All Bombs

खैर ऊपर तो आपको MOAB के बारे में सारी जानकारी मिल गई. लेकिन दुनिया में यही सबसे बड़ा बम नहीं है. यूं तो इसे भारी-भरकम बम के रूप में काफी प्रसिद्धि मिली.

लेकिन दुनिया का सबसे ज्यादा खतरनाक और बड़ा बम Father of All Bombs के नाम से जाना जाता है. अमेरिका द्वारा MOAB बनाए जाने के बाद इसका निर्माण रूस ने किया था.

Father of All Bombs को MOAB यानी बमों की मां से भी चार गुना ज्यादा शक्तिशाली बताया जाता है.

 

इस FOAB का वजन 15,560 पाउंड (करीब 7057 किलोग्राम) है और यह 44 टन वजनी खतरनाक विस्फोटक TNT के बराबर है.

यह अमेरिकी बमों की मां से ज्यादा शक्तिशाली होने के साथ ही इसके ब्लास्ट जोन (विस्फोट क्षेत्र) का दोगुना क्षेत्र कवर करता है और सबकुछ बर्बाद कर देता है.

रूस ने 2007 में इसका परीक्षण किया था जिसमें पता चला था कि यह MOAB की तुलना में दोगुना ज्यादा तापमान पैदा करता है.

हालांकि आकार में यह बम MOAB की तुलना में छोटा बताया जाता है लेकिन इसमें नए ढंग के विस्फोटक भरे होने की वजह से यह बहुत ज्यादा तापमान और सुपरसोनिक शॉकवेव देकर बहुत ज्यादा नुकसान करता है.

First published: 14 April 2017, 21:49 IST
 
अमित कुमार बाजपेयी @amit_bajpai2000

पत्रकारिता में एक दशक से ज्यादा का अनुभव. ऑनलाइन और ऑफलाइन कारोबार, गैज़ेट वर्ल्ड, डिजिटल टेक्नोलॉजी, ऑटोमोबाइल, एजुकेशन पर पैनी नज़र रखते हैं. ग्रेटर नोएडा में हुई फार्मूला वन रेसिंग को लगातार दो साल कवर किया. एक्सपो मार्ट की शुरुआत से लेकर वहां होने वाली अंतरराष्ट्रीय प्रदर्शनियों-संगोष्ठियों की रिपोर्टिंग.

पिछली कहानी
अगली कहानी