Home » अजब गजब » Finland is Happiest People Country in The World According To Survey
 

यहां रहते हैं दुनिया के सबसे खुश लोग, ऐसे जीते हैं बिंदास जिंदगी

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 July 2018, 10:52 IST

दुनिया के सभी देशों में लोगों को कोई ना कोई परेशानी जरूर होती है, लेकिन इनमें एक देश ऐसा भी है जहां सबसे खुशहाल लोग रहते हैं. जहां लोग अपना सामान खुले में भी छोड़ दें तो उसे कोई नहीं उठाता. यहां के लोगों अपने गुस्से और खुशी को कभी खुलकर बयां नहीं करते. इस देश का नाम है फिनलैंड. उत्तरी यूरोप में बसे फिनलैंड को साल 2018 की वर्ल्ड हैप्पीनेस रिपोर्ट में पहले नंबर पर रखा गया.

यहां के लोग अपनी-अपनी जिंदगी में मगर रहने वाले होते हैं. और बहुत संतुलित जीवन जीते हैं. हो सकता है यही उनकी असली खुशी का राज हो. बीबीसी हिंदी ने कनाडा की ब्रिटिश यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर और वर्ल्ड हैप्पीनेस रिपोर्ट के सह-संस्थापक जॉन हैलीवेल के मुताबिक लिखा, कि खुशहाली को मापना इमोशनल स्टडी बिल्कुल नहीं है. बल्कि इस रिपोर्ट के जरिए सारी दुनिया में रहन-सहन के स्तर को नापा जाता है. इसी पैमाने पर फिनलैंड सबसे आगे निकला है.

प्रोफेसर जॉन कहते हैं कि,जीवन स्तर बेहतर करने में किसी देश की जीडीपी और प्रति व्यक्ति आय के साथ-साथ सेहत और लंबी उम्र अहम होती है लेकिन, इसके अलावा लोगों का एक दूसरे से जुड़ाव, एक दूसरे की मदद करना, उनका सहारा बनना, अपने फैसले खुद करने की आजादी होना भी अहम होता है.

वो कहते हैं कि ये सब उदारता और विश्वास की वजह से होता है और इसी से जीवन स्तर बेहतर होता है. फिनलैंड के लोगों में ये लक्षण सबसे ज्यादा पाए गए हैं. फिनलैंड की यूनिवर्सिटी ऑफ हेलसिंकी के मनोवैज्ञानिक भी इस बात से सहमत हैं कि खुशहाली के लिए विश्वास सबसे अहम है. लोग चाहते हैं उन पर भरोसा किया जाए और वो दूसरों पर यकीन कर सकें.

बता दें किफिनलैंड में अजनबी भी आकर उतने ही भरोसेमंद हो जाते हैं जितना कि फिनलैंड के लोग हैं. इस साल पहली बार अजनबियों को भी सर्वे में शामिल किया गया. पाया गया कि फिनलैंड के मूल निवासियों की ही तरह बाहर से आकर बसे लोग भी उतने ही खुश थे. इससे जाहिर है कि फिनलैंड में खुशी का एहसास सिर्फ सजातीय समाज की वजह से नहीं है. बल्कि, जिस तरह से देश का निजाम चलाया जाता है, वो लोगों को खुशी देता है.

फिनलैंड की सरकार रहमदिली से चलती है. यहां मानवाधिकारों का सम्मान बहुत ज्यादा है. बात चाहे लैंगिक समानता की हो या फिर रोजगार की, यहां सभी का ख्याल रखा जाता है. यहां तक कि पर्यावरण संबंधी पॉलिसी भी हर छोटी-छोटी बात का ख्याल रखकर तैयार की जाती है. इन्हीं सबकी वजह से यहां के लोगों का जीवन-स्तर अन्य देशों की तुलना में बेहतर है, और, यहां खुशहाली है.

ये भी पढ़ें- 250,000 डॉलर का एंटिक पीस वायलिन 50 डॉलर में गिरवी रखा गया

First published: 29 July 2018, 10:52 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी