Home » अजब गजब » French Village Told to Stops Charging on Residents Council and Property By District Audit Office
 

करोड़ों रुपये कमाने वाले इस गांव से टैक्स नहीं लेती है सरकार

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 July 2018, 13:17 IST

जिस देश में लोगों की जितनी ज्यादा आमदनी होती है उनके उतने ही ज्यादा खर्चे भी होते हैं. इसके साथ-साथ उन्हें सरकार को भारी टैक्स भी चुकाना होता है, लेकिन फ्रांस के एक गांव के लोगों को इस मामले में भाग्यशाली कहा जा सकता है. क्योंकि इस गांव के लोग हर साल करोड़ों रुपये कमाते हैं. लेकिन स्थानीय प्रशासन ने उन्हें टैक्स ना देने को कहा है. अगर इस गांव के लोगों को टैक्स देना पड़े तो उनका टैक्स लाखों रुपये में होगा.

दरअसल,फ्रांस के ला परथूस गांव के लोगों की कमाई का एक बड़ा जरिया सिर्फ पार्किंग है. इस गांव के लोग पार्किंग से ही सालाना 7,00000 पाउंड यानि करीब साढ़े छह करोड़ रुपए कमाते हैं. इस गांव की आबादी सिर्फ 586 है. इस गांव में अतिरिक्त पैसा आने की वजह से जिले के ऑडिट ऑफिस ने लोगों से कहा है कि वे संपत्ति कर ना दें.

हालांकि, स्थानीय प्रशासन जिले के इस फैसले से सहमत नहीं है. स्थानीय प्रशासन का कहना है कि टैक्स ना देने से विकास के काम प्रभावित होंगे.

 

बता दें कि इस गांव में पार्किंग से अधिक कमाई इसलिए होती है क्योंकि ये गांव स्पेन की सीमा से सटा हुआ है. फ्रांस के मुकाबले स्पेन में चीजें सस्ती हैं. ऐसे में लोग बॉर्डर पर बनी स्थानीय प्रशासन की पार्किंग में अपने वाहन खड़े करके स्पेन में खरीदारी करने चले जाते हैं. जिससे पार्किंग में खूब कमाई होती है.

खरीदारी के लिए नियमित रूप से स्पेन जाने वाले एक व्यक्ति का साल में करीब 1200 पाउंड यानी करीब एक लाख रुपए पार्किंग फीस के रूप में ही खर्च होता जाता है. इसके बाद भी उसे वहां से खरीदारी सस्ती पड़ती है. बता दें कि स्पेन में शराब, तंबाकू और परफ्यूम समेत कई सामानों पर टैक्स फ्रांस की तुलना में काफी कम है. इसलिए स्पेन में चीजें सस्ती मिलती है. भारत की तरह ही फ्रांस के लोग भी सस्ती चीजों के चक्कर में स्पेन के बाजारों से खरीदारी करना पसंद करते हैं, जिससे कुछ पैसे की बचत की जा

ये भी पढ़ें- 125 गांव के गरीब बच्चों के लिए किसी मसीहा से कम नहीं हैं ये 13 साल के 'छोटे मास्टरजी'

First published: 24 July 2018, 13:17 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी