Home » अजब गजब » Gate to hell: Turkey's Pluto gate known as deadest place on earth
 

ये है धरती पर नरक का द्वार, जिसने भी की अंदर जाने की गलती कभी नहीं आया वापस

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 October 2021, 12:58 IST

इंसान के मरने के बाद उसकी आत्मा या रूह स्वर्ग में जाती है या नरक में, इसके बारे में कोई नहीं जानता. हालांकि लोगों का ऐसा मानना है कि जो इंसान अच्छे काम करता है उसे स्वर्ग मिलता है और बुरे काम करने वाले को नरक. लेकिन आज हम आपको धरती पर मौजूद एक ऐसे स्थान के बारे में बताने जा रहे हैं जिसे धरती पर 'नरक का द्वार' माना जाता है. आज हम आपको बताने जा रहे हैं तुर्की के एक ऐसे स्थान के बारे में जिसे नरक का द्वार कहा जाता है. दरअसल, तुर्की के प्राचीन शहर हेरापोलिस में एक बहुत ही पुराना मंदिर स्थित है, जिसे लोग नर्क का द्वार कहते हैं.

इस मंदिर के अंदर जाना तो दूर की बात है लोग आसपास भी जाने जने से भी कतराते हैं ऐसा कहा जाता है कि इस मंदिर के पास या अंदर जाने वाला कभी वापस लौटकर नहीं आता. ऐसा कहा जाता है कि इस मंदिर के संपर्क में आते ही इंसान से लेकर पशु-पक्षी तक मर जाते हैं. बता दें कि कई सालों तक हेरापोलिस में स्थित यह जगह रहस्यमय बनी हुई थी. क्योंकि लोगों का ऐसा मानना था कि यूनानी देवता की जहरीली सांसों की वजह से यहां आने वालों की मौत हो रही है. जब यहां लगातार लोगों और जानवरों की मौतें हुई तो इस मंदिर को लोगों ने 'नर्क का द्वार' नाम दे दिया.


ऐसा भी कहा जाता है कि ग्रीक, रोमन काल में भी लोग मौत के डर की वजह से यहां जाने से डरते थे. हालांकि, वैज्ञानिकों ने लगातार हो रही मौत की गुत्थी सुलझा ली है. वैज्ञानिकों के मुताबिक, इस मंदिर के नीचे से लगातार जहरीली कार्बन डाई ऑक्साइड गैस रिसकर बाहर निकल रही है, जिसके संपर्क में आते ही इंसानों और पशु-पक्षियों की मौत हो जाती है. वैज्ञानिकों के द्वारा किए गए शोध में यह बात सामने आई कि मंदिर के नीचे बनी गुफा में बहुत बड़ी मात्रा में कार्बन डाई ऑक्साइड गैस मौजूद है. बता दें कि मात्र 10 फीसदी कार्बन डाइ ऑक्साइड गैस किसी भी इंसान को 30 मिनट के अंदर मौत की नींद सुला सकती है.

OMG: मास्क पहनकर रनिंग कर रहा था शख्स, बाएं से दाएं खिसककर आ गया दिल और फट गया फेफड़ा

वहीं, इस मंदिर के गुफा में कार्बन डाई ऑक्साइड जैसे जहरीली गैस की मात्रा 91 फीसदी है. बता दें कि इस मंदिर के अंदर से निकल रही जहरीली गैस की वजह से यहां आने वाले कीड़े-मकोड़े और पशु-पक्षी मर जाते हैं. ये जगह पूरी तरह से वाष्प से भरी होने की वजह से काफी धुंधली और घनी है, जिसकी वजह से यहां जमीन भी मुश्किल से ही दिखाई देती है. इसी के चलते सरकार लोगों को यहां न जाने की चेतावनी देती है.

डरावनी गुड़ियों से सजे इस घर में रहते हैं भूत, रात में इसके सामने से भी नहीं गुजरते लोग

First published: 14 October 2021, 12:58 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी