Home » अजब गजब » Gregor MacGregor he was a king of Conman Who Sold Off An Imaginary Country
 

सामने आई दुनिया के सबसे बड़े फ्रॉड की कहानी, इस शख्स ने बेच दिया था पूरा देश

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 July 2018, 11:55 IST
(Wikipedia)

दुनियाभर में ऐसे तमाम लोग पैदा हुए जिन्होंने अपनी दिमाग का इस्तेमाल लोगों को बेवकूफ बनाने में किया. जिनमें कुछ लोगों ने छोटे-मोटे फ्रॉड किए तो कुछ ऐसा कर दुनिया के सबसे बड़े फ्रॉड की लिस्ट में शामिल हो गए. इनमें एक नाम है. ग्रेगर मैकग्रेक का.

जिसे दुनिया का सबसे बड़ा फ्रॉड माना जाता है. ग्रेगर मैकग्रेक के ब्रिटिश सिपाही था, जो अमेरिका में भी जंग लड़ चुका है. ग्रेगर मैकग्रेक की गिनती दुनिया के सबसे बड़े फ्रॉड में इसलिए की जाती है क्योंकि उसने उसने एक बार एक ऐसे देश को बेच दिया, जिसका कोई अस्तित्व ही नहीं था.

दरअसल, साल 1820 में जब ब्रिटिश सैनिक दक्षिण अमेरिका में युद्ध करके अपने-अपने घर लौट रहे थे. उस दौरान ग्रेगर भी ब्रिटेन लौटा आया. यहां लौट कर उसने लोगों को अपनी बहादुरी के किस्से सुनाये. उसने लोगों को एक ऐसे देश के बारे में बताया जहां के पेड़ सावन की हरियाली से भी ज़्यादा हरे हैं. साल भर खेत फसलों से लहराते रहते हैं, नदियों में पानी के साथ-साथ सोने के पत्थर भी तैरते हैं.

ग्रेगर की ये कहानियां एक सपने की तरह थीं, पर ग्रेगर के कहानियों को सुनाने का ढंग कुछ ऐसा था कि लोगों को उस पर विश्वास होने लगा. लोगों के इसी विश्वास पर ग्रेगर ने अपने इस काल्पनिक देश की नींव रखी दी. ग्रेगर ने अपने इस काल्पनिक देश का नाम पॉईस रखा. ग्रेगर लोगों से कहता इस देश में हर वो चीज़ है, जो हम चाहते हैं, बस ज़रूरत है कि हम वहां जा कर उसे विकसित करें.

इसके लिए उसने लोगों को वहां इन्वेस्टमेंट करने के लिए राजी भी कर लिया. लोगों को इस अनोखे देश में इन्वेस्टमेंट के लिए आकर्षित करने के लिए ग्रेगर ने ब्रोशर छपवाए और पेपरों में इंटरव्यू दिए. ग्रेगर ने नकली नोटों की छपाई करवाई और 7 ऐसे जहाज तैयार करवाये, जो लोगों को इस काल्पनिक देश की यात्रा पर ले जाने वाले थे. ग्रेगर ने इस दौरान इस देश में लोगों को जमीन बेचकर दो लाख डॉलर कमा लिए.

Wikipedia

जब ये जहाज पॉइस नाम के देश को ढूंढ़ने के लिए निकला तो ग्रेगर फ्रांस भाग गया, यहां भी उसने लोगों को ऐसे ही काल्पनिक देश के बारे में बताया और इन्वेस्टमेंट के लिए राज़ी किया, पर इस मामले में फ्रेंच लोग समझदार निकले और इन्वेस्ट करने से पहले छानबीन का सहारा लिया. इस छानबीन में ग्रेगर की चोरी पकड़ी गई.

इसके बाद ग्रेगर पर मुकदमा चलाया गया और उसे जेल भेज दिया गया. लेकिन ग्रेगर कहां मानने वाला था. उसने मुकद्दमे के खिलाफ उच्च कोर्ट में अपील की, जहां उसे सभी आरोपों से रिहा कर दिया गया.

दुनिया भर को बेवकूफ बनाने वाला यही वो शख्स था जिसने वेनुजुएला की आज़ादी की लड़ाई में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया. वेनुजुएला के आज़ाद होने के बाद ग्रेगर का एक हीरो की तरह स्वागत किया गया और वेनुजुएला की आर्मी ने उसे राजकीय सम्मान भी दिया था.

ये भी पढ़ें- अमेजन के खतरनाक जंगल में ऐसे और इतने सालों से अकेला रह रहा है ये शख्स, वीडियो आया सामने

First published: 22 July 2018, 11:55 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी