Home » अजब गजब » Groom refused dowry then bride family gifted 1000 books in West Bengal
 

दूल्हे ने किया दहेज लेने से मना तो ससुरालियों ने किया कुछ ऐसा काम, देखकर दंग रह गए लोग

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 May 2019, 14:21 IST

हमारे देश में शादियों में दहेज लेना आम बात है, यहां तक कि कई बार दहेज ना मिलने पर लड़के वाले रिश्ता तोड़ देते हैं और कई बार तो ऐसा होता है कि दहेज की खारित बारात तक वापस चली जाती है. लेकिन पश्चिम बंगाल में कुछ ऐसा हुआ जिसे देखकर हर कोई दंग रह गया. क्योंकि यहां दूल्हे ने दहेज लेने से मना कर दिया. उसके बाद लड़की के घरवालों ने दूल्हे को एक ऐसी चीज दी जिसे देखकर बारात ही नहीं बल्कि दूल्हा भी बहुत खुश हुआ.

दरअसल, पश्चिम बंगाल के मिदनापुर में रहने वाले सूर्यकांत बरीक पेशे के एक शिक्षक हैं. उनकी शादी पूर्वी मिदनापुर की रहने वाली प्रियंका बेज से हुई है. सूर्यकांत ने अपनी शादी में दहेज लेने से मना कर दिया था, लेकिन जब वह शादी करने के लिए विवाह स्थल पर पहुंचे तो वहां का नजारा देखकर दंग रह गए. क्योंकि दुल्हन के परिवार ने उन्हें एक ऐसी चीज दी जिसे देखकर वह खुद दंग रह गए.

वहीं दुल्हन प्रियंका का कहना है कि उन्हें ऐसी शादी में यकीन नहीं है, जिसमें दहेज लिया-दिया जाए. उन्होंने खुशी जताई है कि उनके पति भी दहेज प्रथा के खिलाफ हैं. खबरों के मुताबिक सूर्यकांत को उनके ससुराल वालों ने दहेज के रूप में एक लाख रुपये की एक हजार किताबें दीं.

जिसमें रबींद्रनाथ टैगोर, बंकिम चंद्र चटर्जी और शरत चंद्र चटोपाध्याय जैसे देश के नामी बंगाली लेखकों के अलावा हैरी पॉटर जैसी किताबें भी शामिल हैं. दुल्हन के परिवार ने इन किताबों को 150 किलोमीटर दूर से मंगवाया था. बता दें कि इस शादी में आने वाले मेहमानों से भी अपील की गई थी कि वो कोई भी कीमत गिफ्ट न लाएं, बल्कि इसके बदले में वो भी दूल्हा-दुल्हन को किताबें ही गिफ्ट करें.

इस देश में अब मां-बाप ने की बच्चों की पिटाई तो होगी जेल, सरकार ने बदला नियम

First published: 25 May 2019, 14:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी