Home » अजब गजब » Here The People Are Living In Amazing Nests Home
 

घोंसलों में रहना पसंद करते हैं इस गांव के लोग, 700 सालों से चल रहा है ये सिलसिला

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 November 2018, 12:10 IST

अच्छे और आलीशान घरों में रहने का किसका सपना नहीं होता, हर कोई चाहता है उसका अपना घर हो. घर भी ऐसा हो जहां खूब स्पेस हो, हरियाली हो और वहां सूरज की रोशनी आती हो और वो वहां सुकून से रह सके. लेकिन आज हम ऐसे घरों के बारे में बताने जा रहे हैं. जो एकदम चिड़ियों के घोंसलों की तरह हैं. ये लोग कोई एक दो साल से ऐसे घरों में नहीं रह रहे, बल्कि इनकी कई पीढ़ियां ऐसे घरों में रह रही हैं.

दरअसल, ईरान के कंदोवन गांव की है कहानी कुछ ऐसी है. जहां लोग घोंसलानुमा घरों में रहते हैं. ये घर अपनी अजीबोगरीब परंपरा के लिए दुनियाभर में मशहूर हैं. ईरान के इस कंदोवन गांव के लोग पक्षियों की तरह घोंसले बनाकर रहते हैं. इन घरों की खास बात ये हैं कि ये घर सर्दियों में गर्म और गर्मियों में ठंडे रहते हैं.

बता दें कि ये घर देखने में भले ही अजीब लगें, लेकिन रहने में काफी आरामदायक है. खबरों के मुताबिक यह गांव 700 साल पुराना है. यहां रहने वाले लोगों को न हीटर की जरूरत पड़ती है और न ही एसी की. क्योंकि गर्मी के मौसम में ये घर ठंडे रहते हैं और सर्दी में गर्म. आप सोच रहे होंगे कि इन घरों का निर्माण कैसे और क्यों हुआ?

बताया जाता है कि यहां रह रहे लोगों के पूर्वजों ने मंगोलों के हमलों से बचने के लिए ये घर बनाए थे. कंदोवन के प्रारंभिक निवासी यहां हमलावर मंगोलों से बचने के लिए आए थे. वे छिपने के लिए ज्वालामुखी चट्टानों में ठिकाना खोदा करते थे और वहीं उनका स्थायी घर बन जाता था. दुनियाभर में यह गांव अपने अनोखे घरों के लिए आज भी जाना जाता है.

ये भी पढ़ें- गणित की कमजोरी दूर करने के लिए सोशल मीडिया में मांगी इस लड़की ने मदद, मिले हैरान करने वाले जवाब

ये भी पढ़ें- खुद को सांप से कटवाकर इस महान वैज्ञानिक ने की रिसर्च, मरने से पहले लिखी अपनी मौत की पूरी कहानी

ये भी पढ़ें- इस गांव में मिलता है ऐसा पत्थर जो दूध को बना देता है दही, देखने वाले हर जाते हैं दंग

First published: 13 November 2018, 12:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी