Home » अजब गजब » Horrible female serial killer Elizabeth Bathory from Hungary bathing of blood of girl
 

दुनिया की सबसे खतरनाक सीरियल किलर थी ये महिला, कुंवारी लड़कियों के खून से करती थी स्नान

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 February 2019, 13:11 IST
(प्रतीकात्मक फोटो)

आपने दुनिया के कई सीरियल किलर्स के बारे में सुना होगा, जिन्हें सैकड़ों लोगों को मौत के घाट उतार दिया. लेकिन शायद ही किसी ऐसी महिला के बारे में सुना होगा जो ना सिर्फ दुनिया की सबसे खतरनाक महिला थी बल्कि उसे दुनिया की सबसे खतरनाक सीरियल किलर महिला के रूप में जाना जाता है. इस महिला का शौक कुंवारी लड़कियों के खून से नहाने का था.

हम बात कर रहे हैं हंगरी की एलिजाबेथ बाथरी की. एलिजाबेथ बाथरी को इतिहास की सबसे खतरनाक महिला के रूप में जाना जाता है. एजिलाबेत कुंवारी लड़कियों की हत्या कर उनके खून से नहाती थी. इसीलिए उसे इतिहास की सबसे खतरनाक और वहशी महिला सीरियल किलर के रूप में जाना जाता है.

इतिहास में एलिजाबेथ बाथरी ने के इन काले कारनामों की तारीख 1585 से 1610 के बीच की बताई गई है. इस दौरान उसने 600 से ज्यादा लड़कियों की हत्या कर उनके खून से स्नान किया था. बताया जाता है कि एलिजाबेथ बाथरी ने सभी हत्याएं अपने महल में ही की थी. क्योंकि, एलिजाबेथ बाथरी हंगरी साम्राज्य के ऊंचे रसूख वाले बाथरी परिवार से ताल्लुक रखती थी. उसकी शादी फेरेंक नैडेस्डी नाम के शख्स से हुई थी, जो तुर्कों के खिलाफ युद्ध में हंगरी का नेशनल हीरो था.

बताया जाता है कि एलिजाबेथ बाथरी का पति जब जिंदा था, तब भी वह लड़कियों को अपना शिकार बनाती थी, लेकिन साल 1604 में उसकी मौत के बाद तो उसने जैसे अपने जुर्म को बढ़ाना शुरु कर दिया. बता दें कि एलिजाबेथ बाथरी स्लोवानिया के चास्चिस स्थित अपने महल में रहती थी.

ऐसा माना जाता है कि एलिजाबेथ बाथरी के इस भयानक जुर्म में उसके तीन नौकर भी उसका साथ देते थे. क्योंकि वो एक ऊंचे रसूख वाली महिला थी, इसलिए वो आसपास के गांवों की गरीब लड़कियों को अपने महल में अच्छे पैसों पर काम करने का लालच देकर बुला लेती थी. लेकिन लड़कियां जैसे ही महल में आतीं वो उन्हें अपना शिकार बना लेती.

ऐसा माना जाता है कि एलिजाबेथ अपने शिकार को बुरी तरह प्रताड़ित करती थी. पहले उन्हें मारती-पिटती, और फिर उनके हाथों को जला देती थी या फिर काट देती थी. कई बार वह लड़कियों के चेहरे या शरीर के दूसरे अंगों का मांस दांतों से काटकर निकाल लेती थी और अंत में उनकी हत्या कर उनका खून एक टब में इकठ्ठा करती और उसके बाद इस खून में नहाती थी.

ऐसा माना जाता है कि एलिजाबेथ अपने शिकार को बुरी तरह प्रताड़ित करती थी. पहले उन्हें मारती-पीटती, और फिर उनके हाथों को जला देती थी या फिर काट देती थी. कई बार वह लड़कियों के चेहरे या शरीर के दूसरे अंगों का मांस दांतों से काटकर निकाल लेती थी और अंत में उनकी हत्या कर उनका खून एक टब में इकठ्ठा करती और उसके बाद इस खून में नहाती थी.

बताया जाता है कि जब इलाके में लड़कियों की संख्या काफी कम हो गई, तब उसने ऊंचे परिवार की लड़कियों को अपना शिकार बनाना शुरू कर दिया था. यह बात जब हंगरी के राजा को पता चली तो उन्होंने मामले की जांच करवाई, तब इस मामले का खुलासा हुआ. जांच दल ने एलिजाबेथ के महल से कई लड़कियों के कंकाल और सोने-चांदी के आभूषण बरामद किए थे.

साल 1610 में एलिजाबेथ बाथरी को उसके घिनौने जुर्म के लिए गिरफ्तार कर लिया गया. उसके बाद उसके ही महल के एक कमरे में उसे कैद कर दिया गया, जहां पर चार साल बाद 21 अगस्त, 1614 को उसकी मौत हो गईऐसा माना जाता है कि एलिजाबेथ काफी खूबसूरत थी और वो अपनी इस खूबसूरती को बरकरार रखना चाहती थी. इसीलिए उसने लड़कियों के खून से नहाना शुरु किया था और 600 से ज्यादा लड़कियों की मौत हो गई.

ये भी पढ़ें- 400 साल पुराने पेड़ को चुराकर ले गए चोर, कीमत जानकर उड़ जाएंगे होश

First published: 20 February 2019, 13:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी