Home » अजब गजब » Israeli Women Protest Against Domestic Violence With Blood Res Shoes In Tel Aviv
 

यहां विरोध प्रदर्शन के लिए सड़क पर जूते छोड़ रही महिलाएं, वजह है कुछ खास

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 December 2018, 15:31 IST

सरकार या किसी संगठन से अपनी मांगें मनवाने के लिए लोग अक्सर विरोध प्रदर्शन करते हैं. विरोध प्रदर्शन के तरीके भी हर जगह अलग-अलग होते हैं. ऐसे में अगर कोई विरोध प्रदर्शन के लिए जूतों का इस्तेमाल करे तो इसे आप क्या कहेंगे. ऐसे ही एक विरोध प्रदर्शन की कुछ तस्वीरें इनदिनों सोशल मीडिया में तेजी से वायरल हो रही हैं.

ता दें कि इस अनोखे विरोध प्रदर्शन में महिलाएं और लड़कियां अपने लाल रंग के जूते छोड़कर चली जा रही हैं. दरअसल, ये सब हो रहा है इजरायल में. जहां महिलाओं ने घरेलू हिंसा के खिलाफ आवाज उठाने का एक अनोखा और नायाब तरीका खोज निकाला है. यहां सरकार द्वारा घरेलू हिंसा के खिलाफ सख्त कदम न उठाने से महिलाएं काफी नाराज हैं. ऐसे में महिलाओं ने विरोध करने के लिए अपने जूतों का प्रयोग किया. महिलाओं के विरोध-प्रदर्शन करने का ये अनोखा अंदाज सोशल मीडिया पर काफी चर्चा में है.

बता दें कि इस विरोध प्रदर्शन के लिए इजराइल की महिलाओं और लड़कियों ने देश की राजधानी येरुशलम के हबिमा चौक को चुना है. जहां आपको सड़क पर अलग-अलग कतारों में जूतियां रखकर महिलाओं पर हिंसा के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन किया. बता दें कि यहां की महिलाओं ने जूतों को घरेलू हिंसा के प्रतीक के रूप में रखा है.

यही नहीं विरोध-प्रदर्शन के दौरान एकत्र हुई महिलाओं ने घरेलू हिंसा की वजह से मौत का शिकार हुईं औरतों के आंकड़े तख्तियों पर लिखकर दिखाए. साथ ही अपने कपड़ों पर लाल रंग लगाकर घरेलू हिंसा के खिलाफ प्रदर्शन किया.

विरोध प्रदर्शन के दौरान महिलाओं ने इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू को संबोधित करते हुए "जागो, हमारा खून भी बेकार नहीं है” के नारे लगाए. खबरों के मुताबिक महिलाओं ने इस विरोध प्रदर्शन को इस साल घरेलू हिंसा की वजह से मारी गईं महिलाओं को समर्पित किया. बता दें कि इजरायल में इस साल24 महिलाएं घरेलू हिंसा का शिकार हो गईं जिसमें उनकी मौत हो गई. इस अनोखे विरोध प्रदर्शन में 20 हजार से अधिक लोगों ने हिस्सा लिया.

बता दें कि इजरायल में इस साल24 महिलाएं घरेलू हिंसा का शिकार हो गईं जिसमें उनकी मौत हो गई. इस अनोखे विरोध प्रदर्शन में 20 हजार से अधिक लोगों ने हिस्सा लिया.

ये भी पढ़ें- मार्केट से सब्जी खरीदने गई थी ये महिला, घर वापस लौटी तो बन गई करोड़पति

First published: 7 December 2018, 15:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी