Home » अजब गजब » Japan will enter in new era reiwa from 1st May 2019 Know the reason
 

इस देश में होने वाली है नए युग की शुरुआत, बदल जाएगी हर चीज, जानिए क्या है वजह

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 April 2019, 12:13 IST

हर देश में अलग-अलग परंपराएं निभाई जाती हैं. वहां के लोग भी पूरी जिंदगी इन्हीं परंपराओं का पालन करते हैं. इन्हीं में से कुछ परंपराएं ऐसी भी होती हैं जो लोगोंं का पूरा जीवन ही बदल देती हैं. ऐसी ही एक परंपरा उगते सूरज का देश कहे जाने वाले जापान में भी निभाई जाती है. जिसके चलते ये देश अब नई सदी यानि नए युग में प्रवेश करने वाला है.

जापान में शुरु होने वाले नए युग का नाम है रीवा. बता दें कि जापान के राजा जब अपनी गद्दी छोड़ते हैं, तो उनके गद्दी छोड़ने के साथ ही एक युग का अंत हो जाता है. उसके बाद शुरु होता है नया युग. जो वहां के नया राजा बनने के बाद शुरु होता है. जापान में नए युग की शुरुआत होने की हाल ही में घोषणा की गई है.

बता दें कि जापान में फिलहाल आकीहीतो राजा हैं. वही पिछले 31 साल से जापान के राजा है. उनके इस युग को हाइसी युग नाम दिया गया था, लेकिन अब ये 1 मई से खत्म हो जाएगा. आकीहीतो क्रिसेनथेमम थ्रोन यानि ताज को अपने बेटे क्राउन प्रिंस नारुहीतो के सिर पर सजाएंगें.

नारुहीतो के राजा बनते ही जापान में नए युग का शुभारंभ हो जाएगा. इसी के साथ जापान में कलेंडर बद जाएगा. यहां उत्सव का माहौल होगा. यहां तक की लोगों के दस्तावेज भी बदल जाएंगे. वह अपने जन्म प्रमाण पत्र में अपने पैदा होने की तारीख के साथ उस युग का नाम भी लिखेंगे. जो उस वक्त चल रहा होता है. यहां के लोग नया युग शुरू होने के बाद से एक नए युग में कदम रखेंगे.

बता दें कि हम ये बिल्कुल नहीं कह सकते है कि जापान के शाही परिवार के हाथ में ज्यादा ताकत है. क्योंकि जापान एक संवैधानिक राजतांत्रिक देश है. यहां संविधान है, लोकतंत्र है. इसी के साथ शाही परिवार भी है. इस शाही परिवार के पास अधिक ताकत नहीं है. यहां तक कि एक नए युग की शुरुआत जब भी होती है, तो उस युग का नाम भी सरकार ही चुनती है. इसके लिए राजा बस औपचारिकता के लिए उस नाम को मंजूरी दे देता है.

बता दें कि वर्तमान में चल रहे युग हाइसी का मतलब है शांती प्राप्त करना. ये युग एक मई, 2019 को खत्म हो जाएगा. अब एक मई से शुरु होने वाले नए युग यानि रीवा का मतलब है आदेश और सद्भाव है. बता दें कि जापान में युग को 'गैंगो' कहा जाता है. इसी के साथ सिक्कों, नोट, अखबार, कलेंडर आदि में भी पुराने गैंगो के स्थान पर नया गैंगो इस्तेमाल होगा.

 

बता दें कि जापानी लोग अपने रोजमर्रा के जीवन में गैंगो का इस्तेमाल करते हैं. वह अपनी डायरी आदि में नए युग का नाम लिखते हैं. जापान में ये परंपरा काफी पुरानी है. ये प्रथा चीन से ली गई थी. क्योंकि वहां भी एक समय में नए युग की शुरुआत होती थी. चीन में सुनामी आने या बहुत अच्छा होने पर नए युग की शुरुआत होती थी.

बता दें कि जापान में पहले युग की शुरुआत मेजी युग (1868-1912) से हुई थी. यानि एक राजा एक युग. मेजी युग के समय कई सुधार भी किए गए थे. उस समय ये निर्णय लिया गया था कि जापान के राजा को ज्यादा ताकत दी जाएगी और उसके बदलने के साथ ही एक नए युग की शुरुआत होगी. लेकिन समय के साथ सब बदलता गया. और राजा की ताकत भी खत्म होती गई.

बाज और उल्लू करते हैं इस देश के राष्ट्रपति की सुरक्षा, जानिए क्या है वजह

First published: 7 April 2019, 12:13 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी