Home » अजब गजब » King of Saudi Arab special tour of Asia with 506 tonne luggage, 2 limousines & hundreds of officers attracts everyone
 

दो लिमोज़िन और 506 टन वजनी राजसी सामान के साथ सऊदी बादशाह निकले यात्रा पर

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 March 2017, 15:34 IST

बादशाहत क्या होती है यह कोई सऊदी अरब के बादशाह से सीखे. 1 से 9 मार्च तक के नौ दिवसीय एशिया दौरे पर निकले बादशाह सलमान बिन अब्दुल अजीज अस्सऊद हर मुल्क में अपनी पूरी शान-ओ-शौकत के साथ रहें इसके लिए उनके साथ 506 टन वजनी लगेज और दो लिमोज़िन कारें शामिल हैं.

बुधवार यानी 1 मार्च को सऊदी अरब के राजा सबसे पहले इंडोनेशिया पहुंचेंगे और 9 मार्च तक अलग-अलग देशों की यात्रा करेंगे. इस दौरान उन्हें हर मुल्क में अपने वतन जैसी सुविधाएं मिलें, इसके लिए उनके साथ पूरा काफिला जा रहा है. इस काफिले में न केवल उनका भारी-भरकम लगेज बल्कि सैकड़ों सुरक्षाकर्मी और कर्मचारी भी शामिल हैं.

बादशाह सलमान बिन अब्दुल अजीज अस्सऊद इस दौरान अपने साथ 506 टन वजनी लगेज लेकर चलेंगे. इसमें उनकी दो मर्सडीज लिमोज़िन कारें और दो इलेक्ट्रिक एलिवेटर्स भी शामिल हैं.

 

इतना ही नहीं बादशाह के साथ 1,500 लोगों वाला एक शिष्टमंडल भी रहेगा. इसमें 10 मंत्री, 25 राजकुमार और 100 सुरक्षाकर्मी भी शामिल रहेंगे. बता दें कि बीते 46 सालों में पहली बार सऊदी अरब का कोई राजा दुनिया के सबसे बड़े मुस्लिम मुल्क इंडोनेशिया की यात्रा पर आ रहा है.

उम्मीद जताई जा रही है कि इस दौरे से दोनों मुल्कों के बीच आर्थिक, सामरिक और राजनयिक संबंधों में मजबूती आएगी.

अंतारा न्यूज एजेंसी की मानें तो पीटी जसा अंगकासा सेमेस्ता नाम एयरफ्रेट कंपनी को बादशाह के लगेज को लाने-ले जाने की जिम्मेदारी दी गई है. कंपनी के अदजी गुनावन के मुताबिक यह लगेज पहले ही संबंधित मुल्क में पहुंचा दिया गया है. उनकी कंपनी के 572 कर्मचारी राजा सलमान के लगेज की देखरेख में लगे हुए हैं.

गौरतलब है कि 2015 में जब बादशाह सलमान वाशिंगटन के दौरे पर गए थे तब उन्होंने जॉर्ज टाउन स्थित फोर सीजन होटल के सभी 222 कमरों को बुक करवा लिया था. कहा जाता है कि फोर सीजन वहां का सबसे लग्जरी होटल है.

वहीं, 2013 में जब पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा अफ्रीका दौरे पर गए थे तो उनके साथ 14 लिमोज़िन कारों समेत कुल 56 वाहन गए थे. उनकी सुरक्षा व अन्य जिम्मेदारियां संभालने के लिए सैकड़ों अधिकारी भी साथ पहुंचे थे.

First published: 1 March 2017, 15:34 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी