Home » अजब गजब » Know The Story Of Amazing Japan’s Ama Divers Or Freediving Fisherwomen
 

दादी-नानी की उम्र में समुद्र की गहराई से मछलियां पकड़ती हैं ये महिलाएं

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 November 2018, 11:16 IST

60 साल की उम्र में जहां लोग रिटायरमेंट लेकर आराम की जिंदगी गुजारना पसंद करते हैं. वहीं इस उम्र में जापान की महिलाएं काले रंग के वेटसूट में समुद्र की गहराईयों में उतरकर मछलियां पकड़ती हैं. यही नहीं इस दौरान उनका जोश देखते ही बनता है क्योंकि इस उम्र में भी ये महिलाएं औरों को मात देती नजर आती हैं. समुद्र में उतरकर मछलियां पकड़ना ही इन महिलाओं का पेशा है.

बता दें कि जापान में इन महिलाओं को ‘अमा’ के नाम से जाना जाता है. जापान में 'अमा' का मतलब ‘समुद्र की मां’ होता है. तटवर्ती शहर टोबा में मछुआरन का काम करने वाली हिदेको कोगुची कहती हैं, ‘मुझे लगता है कि मैं मछलियों के बीच जलपरी हूं और यह अनुभूति बेहद शानदार है.’ कोगुची पिछले तीस सालों से समुद्र में गोता लगा रही हैं और उन्हें उम्मीद है कि अगले 20 साल तक वह यह काम करती रहेंगी.

 

जापान में गोताखोरी का मौसम साल भर में दस महीने का होता है. इस दौरान मछली पकड़ने वालों के स्थानीय संघ मौसम के पूर्वानुमानों के बाद लाउड स्पीकरों पर इन महिलाओं को आवाज लगाते हैं. हर अमा के हाथ में बहुत मामूली औजार होते हैं. समुद्र तल पर यह महिलाएं अपने छल्लों को सेट करती है और फिर पानी में गोता लगाती हैं. कई बार वे अंदर अपनी सांस मिनट भर से ज्यादा तक रोके रखती हैं. यही नहीं ये महिलाएं बिना थके दर्जनों बार गोता लगाती हैं.

जापान में अमा यानि मछली पकड़ने वाली महिलाओं की संख्या अब सिर्फ दो हजार ही बची है. 1930 के दशक में यह संख्या 12 हजार से ज्यादा थी. बता देें कि जापान के साथ दक्षिण कोरिया में भी यह पेशा अभी भी चालू है. यहां गोताखोरों को हाइन्यो कहा जाता है. हालांकि यहां भी उनकी तादाद बहुत कम रह गई है.

बताया जाता है कि जापान में यह परंपरा पिछले 3000 साल से चली आ रही हैएक स्थानीय फिशिग कोऑपरेटिव के निदेशक साकिची ओकुदा बताते हैं कि पुराने दिनों में युवतियां मिडिल स्कूल से निकलने के बाद अमा बन जाती थीं.

इन्हीं अमा में से हैं कोगुची और उनकी बहन. जिन्होंने अपना यह कौशल अपने परिवार में सीखा, जो उनके यहां कई पीढ़ियों से चला आ रहा है. हालांकि अब यह उनसे आगे नहीं जाएगा. क्योंकि अब उनके बच्चे अच्छी नौकरी की तलाश में कहीं और चले गए हैं. यही नहीं वो खुद नहीं चाहती कि अब उनके बच्चे भी इस पेशे को अपनाएं.

ये भी पढ़ें- लड़कियों के इस खास काम के लिए लड़कों की भर्ती कर रही है ये कंपनी

First published: 27 November 2018, 11:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी