Home » अजब गजब » Lockdown: Nothing to eat at home arunachal men killed king Cobra
 

लॉकडाउन: खत्म हो गया खाने-पीने का सामान तो लोगों ने पकड़ लिया 12 फुट लंबा कोबरा और फिर...

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 April 2020, 12:12 IST

Lockdown Impact: कोरोना वायरस (Corona Virus) के प्रसार को रोकने के लिए देशव्यापी लॉकडाउन (Lockdown) किया गया है. ऐसे में तमाम लोगों को खाने-पीने के सामान की परेशानी हो रही है. ऐसा ही एक मामला अरुणाचल प्रदेश से सामने आए हैं. जहां लॉकडउन के दौरान खाने-पीने का सामान खत्म हो जाने पर कुछ लोगों ने एक किंग कोबरा को अपना शिकार बना लिया और उसकी दावत की. दरअसल, सोशल मीडिया पर इनदिनों एक वीडियो वायरल हो रहा, जिसमें तीन लोग 12 फीट लंबे किंग कोबरा को मारकर कंधे पर लिए दिखाई दे रहे हैं. ये वीडियो पूर्वोत्तर के राज्य अरुणाचल प्रदेश का बताया जा रहा है. वीडियो में इन लोगों को यह कहते हुए सुना जा सकता है कि उन्होंने इस जहरीले सांप को खाने के लिए जंगल से मारा है.

बता दें कि भूख मिटाने के लिए इन लोगों ने कोबरा का शिकार किया. उन्होंने दावत के लिए पूरा इंतजाम किया था, कोबरा के मांस को साफ करने उसके टुकड़े करने के लिए केले के पत्तों की भी व्यवस्था की थी. वायरल वीडियो में एक युवक को यह कहते हुए सुना जा सकता है कि कोरोना वायरस महामारी को लेकर जारी लॉकडाउन के दौरान उनके पास खाने के लिए घर में चावल भी नहीं बचे थे. इसलिए हम जंगल में गए और कुछ ढूंढ़ रहे थे तभी ये कोबरा हमें दिखाई दे गया.


स्थानीय अधिकारियों के मुताबिक, कोबरा का शिकार करने वाले लोगों के खिलाफ वन्यजीव संरक्षण अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है. हालांकि, कोबरा का शिकार करने के बाद तीन युवक फरार हो गए. बता दें कि किंग कोबरा एक संरक्षित सरीसृप है और इसे मारना एक अपराध है. ऐसे मामले में जमानत भी नहीं मिलती है. लेकिन लॉकडाउन में खाना-पीना खत्म हो जाने पर इन लोगों ने कोबरा को अपना शिकार बना लिया. बता दें कि अरुणाचल प्रदेश बड़ी संख्या में लुप्तप्राय सांपों की प्रजातियों का घर है. शोधकर्ताओं ने हाल ही में एक विषैले सांप की एक नई प्रजाति की खोज की थी. जिसे शोधकर्ताओं ने 'सालाजार स्लाइथरीन' नाम दिया.

लॉकडाउन: मदद के लिए जारी हेल्पलाइन नंबरों पर फोन कर लोग मांग रहे गर्म समोसा और रसगुल्ला

तानाशाही से बुरी तरह से पस्त है ये देश, जींस पहनने और मर्जी की हेयर स्टाइल तक पर है पाबंदी

कभी 45 करोड़ में अमेरिका को बेच दिया था ये राज्य, रूस को आज भी है इसका मलाल

First published: 20 April 2020, 12:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी