Home » अजब गजब » Man dies while trying to save his pet dog from world's second deadliest venomous snake in Australia
 

सांप से कुत्ते को तो बचा लिया, लेकिन खुद नहीं बच पाया मालिक

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 January 2018, 14:22 IST
फाइल फोटो

यूं तो आपने मालिक की जान बचाने के लिए पालतू कुत्ते की जान जाने के तमाम मामले सुने होंगे. लेकिन यह मामला कुछ अलग है. इसमें एक मालिक अपने कुत्ते को एक जहरीले सांप से बचाने की कोशिश में जान गंवा बैठा.

यह घटना ऑस्ट्रेलिया की है. सिडनी के उत्तर-पश्चिम के इलाके टैमवर्थ में रहने वाले इस 24 वर्षीय मृत युवक की फिलहाल पहचान नहीं हो सकी है. द इंडिपेंडेंट के मुताबिक, जब यह युवक अपने घर में रहने वाले पालतू कुत्ते के मुंह से सांप को हटाने की कोशिश कर रहा था, सांप ने उसकी अंगुली में काट लिया.

रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस ने बताया कि कुत्ते के मुंह से सांप निकालने के दौरान पलटकर सांप ने उसे काट लिया और वो आननफानन में नजदीकी अस्पताल पहुंचा. यहां अस्पताल में उसे तुरंत जहर-रोधी (एंटीवेनम) इंजेक्शन दिया गया, लेकिन एक घंटे के भीतर ही वो मर गया.

एबीसी न्यूज को सार्जेंट जोश मैकेंजी ने बताया, "वो (युवक) अपने कुत्ते के भौंकने पर वजह जानने पहुंचा था, तब उसने देखा कि कुत्ते के मुंह में एक छोटा भूरा सांप है. इसके बाद उसने कुत्ते के मुंह से सांप को निकालने का प्रयास किया और इस दौरान उसकी अंगुली में सांप ने डस लिया."

गौरतलब है कि भूरे सांप दुनिया के दूसरे सबसे ज्यादा जमीन पर पाए जाने वाले जहरीले सांप होते हैं और यह ऑस्ट्रेलिया के सबसे खतरनाक जीवों में से एक हैं. यह स्वभाव से बहुत उग्र होते हैं और बेहद अनुकूल भी. इन्हें खेतों और शहरी इलाकों में पाया जाता है, जहां इनका आमतौर पर शिकार चूहे होते हैं.

ऑस्ट्रेलिया में प्रतिवर्ष करीब 300 लोगों को सांप काटता है, लेकिन इनमें सेे बहुत कम की ही मौत होती है. 2011 से लेकर अब तक ऑस्ट्रेलिया में सांप के काटने से 18 लोगों की ही मौत हुई है.

सिडनी स्थित ऑस्ट्रेलियन रेप्टाइल पार्क के डैन रुम्से कहते हैं कि सांप केवल तभी काटते हैं जब उन्हें डर लगता है. यह बहुत जरूरी है कि सांप काटने के बाद शांत रहें और जहर को फैलने से रोकने के लिए तुरंत चिकित्सीय सहायता लें.

एबीसी न्यूज को उन्होंने बताया, "जहर आपके लिंफैटिक (लसीका) सिस्टम के जरिये फैलता है. आपको चाहिए कि काटे गए स्थान पर और उस अंग पर दबाव बनाए रखें. ज्यादातर लोगों के हाथ या एड़ी में डसा गया होता है. यूं तो सुनने में यह अजीब सा लग सकता है लेकिन आपको शांत रहने की जरूरत होती है. इससे आपका रक्त प्रवाह धीमा होता है, और जितनी जल्दी हो सके अस्पताल पहुंचना चाहिए."

हालांकि, इस रिपोर्ट में यह पता नहीं चल सका कि उस पालतू कुत्ते का क्या हुआ. क्या वो जिंदा है या नहीं.

First published: 14 January 2018, 14:22 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी