Home » अजब गजब » More than 100 children skeleton found with coins in their mouths at lost 16th century graveyard in Poland
 

सड़क निर्माण के दौरान मिले 500 साल पुराने नर कंकाल, वजह जानकर हैरान रह गए लोग

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 July 2020, 14:12 IST

More than 100 children skuleton found: हजारों साल पहले भी पृथ्वी (Earth) पर सैकड़ों ऐसी सभ्यताएं (Civilisation) थी जो अपने-अपने रीति-रिवाज के मुताबिक जीवन जीती थी, साथ ही मृत्यु होने पर उनका अंतिम संस्कार (Funeral) भी अलग तरीके से किया जाता होगा. ऐसा ही एक मामला हाला ही में पोलैंड (Poland) में सामने आया, जब सड़क निर्माण (Road Construction) के लिए एक स्थान पर खुदाई (Digging) का कार्य किया जा रहा था. तभी वहां कुछ ऐसा मिले जिसे देखकर लोगों के होश उड़ गए. दरअसल, यूरोपीय देश (European Country) पोलैंड (Poland) में एक सड़क के निर्माण के लिए खुदाई की जा रही थी.

इसी दौरान वहां कुछ ऐसा मिला जिसे देखकर लोग हैरान रह गए. क्योंकि सड़क बनाने के लिए की जा रही खुदाई में मिट्टी (Soil) और पत्थरों (Stone) की जगह अचानक एक के बाद एक तमाम नर कंकाल (human skeleton) निकलने लगे. उसके बाद वहां काम कर रहे लोग खौफ में आ गए. इस दौरान जमीन से मजदूरों को एक, दो नहीं बल्कि 115 नर कंकाल (Sl) मिले हैं. इन कंकालों को 500 साल से भी ज्यादा पुराना बताया जा रहा है.


बताया जा रहा है कि जिस इलाके से होकर सड़क निकल रही है वहां एक घना जंगल है इसी जंगल में 16वीं शताब्दी का एक कब्रिस्तान भी है. अब ये स्थान एक महत्वपूर्ण सड़क परियोजना के तहत आ गई है. इसलिए इस इलाके में खुदाई का काम तेजी से चल रहा है. पिछले दिनों जब यहां खुदाई की जा रही थी, तभी मजदूरों को कुछ कंकाल होने का पता चला. उसके बाद जब खुदाई के काम को आगे बढ़ाया गया तो पता चला कि इस स्थान पर और भी कंकाल है.

बच्ची के जन्म के साथ हुआ ऐसा आश्चर्य देखकर दंग रह गए लोग, डॉक्टरों ने कही होश उड़ाने वाली बात

ऐसे में वहां काम कर रहे सैकड़ों मजदूर डर गए, लेकिन फिर भी कार्य को रोका नहीं गया. उसके बाद एक के बाद एक इस स्थान से 115 नर कंकाल निकले. जिनमें ज्यादातर बच्चे के थे. कब्रिस्तान से होकर बनाई जा रही ये सड़क ग्रीस से लिथुआनिया तक बनेगी. इसी सड़क निर्माण के लिए अब कब्रिस्तान (Graveyard) को हटा दिया गया है. बताया जा रहा है कि इस कब्रिस्तान में मिलें अवशेषों में कम से कम 70 फीसदी कंकाल बच्चों के हैं. साथ ही ये सभी कंकाल 16वीं शताब्दी के हैं.

VIDEO: गायों के झुंड से भिड़ गई अकेली बत्तख, वीडियो में देखें कैसे किया वार

बता दें कि इन कंकालों में सबसे खास बात ये देखने को मिली कि सभी के मुंह में सिक्के रखे गए हैं. विशेषज्ञों का ऐसा मानना है कि 16वीं शताब्दी में मरने वाले लोगों के मुंह में सिक्के रखे जाते होंगे. क्योंकि उस समय ऐसी मान्यता रही होगी कि दुनिया को विभाजित करने वाली नदी के पार मृत लोगों की आत्मा को लाने के लिए इन सिक्कों को भुगतान के रूप में इस्तेमाल किया जा सके.

गहरी नींद में सो रहे थे पापा, जगाने के लिए बेटी ने डाल दिया पानी, वीडियो में देखें फिर हुआ क्या

हिमाचल प्रदेश: 60 हजार की स्कूटी के लिए कंपनी ने लगाई 18 लाख रुपये के वीवीआई नंबर की बोली

वहीं द फर्स्ट न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, नेशनल रोड्स एंड मोटरवेज के जनरल डायरेक्टर का कहना है कि इस स्थान से कुल 115 नर कंकाल मिले हैं. वहीं 'पुरातात्विक टिप्पणियों के आधार पर, हम यह निष्कर्ष निकाल सकते हैं कि जितने भी कंकाल मिले हैं उनमें से 70 से 80 फीसदी बच्चों के हैं.'

धरती पर हुआ था सामूहिक विनाश, एक्सपर्ट का दावा- ओजोन लेयर में छेद की वजह से आने वाला है महाप्रलय

पैदा होते ही चलने की कोशिश कर रहा था हाथी का बच्चा, वीडियो में देखें फिर हुआ क्या

यही नहीं तमाम लोग ऐसा भी मान रहे हैं कि यहां कोई सामूूहिक कब्र भी हो सकती है, जिसमें सैकड़ों लोगों को एक साथ दफनाया गया हो. हालांकि यहां सामूहिक कब्र होने का कोई सबूत नहीं मिला है. लेकिन विशेषज्ञ ये मान रहे हैं कि इन कंकालों को यहां बहुत ही सावधानी के साथ दफनाया गया होगा.

एक गांव ऐसा जहां रहती हैं सिर्फ एक ही महिला, दिलचस्प है वजह

अनोखा पेड़ जिसे काटने पर इंसानों की तरह निकलने लगता हैं खून

पुरातत्व विशेषज्ञ भी ये देखकर बहुत आश्चर्यचकित थे कि सभी अवशेषों की पीठ जमीन पर थी और अपने एक हाथ को दूसरे हाथ पर रखे हुए थे. इन अवशेषों के मुंह में अभी भी कोई सिक्के थे. मृतकों के मुंह में सिक्कों को मोटल या ओबोल कहा जाता है, जो एक बहुत ही पुरानी ईसाई परंपरा है.

इस किले को माना जाता है भारत का सबसे पुराना किला, आज भी बना हुआ है इसका रहस्य

First published: 1 July 2020, 14:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी