Home » अजब गजब » Most Dangerous Bridges In The World People Should Not Cross Safely
 

दुनिया के 10 सबसे खतरनाक पुल, जिन पर चलने वालों की सांसें थम जाती हैं

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 September 2018, 16:03 IST

दुनिया में ऐसी तमाम चीजें हैं जिन्हें खुद इंसानों ने बनाया है, लेकिन रुकना हर किसी के बस की बात नहीं. जिनमें दुनिया के कुछ खतरनाक पुल भी शामिल हैं. जो अपनी बनावट के साथ ऊंचाई और कारीगरी के लिए भी मशहूर हैं. लेकिन इन पर से गुजरना हर किसी के बस की बात नहीं. जहां से गुजरते वक्त लोगों की सांसें थम जाती है.

आज हम आपको ऐसे ही कुछ पुलों के बारे में बताएंगे, जो अपनी बनावट के साथ इंसानों को डराने का काम भी करता हैं. तो चलिए जानते हैं ऐसे ही कुछ पुलों के बारे में.

रॉयल गॉर्ज ब्रिज, कोलोराडो

इस ब्रिज को अर्कांसस नदी के ऊपर 955 फीट की ऊंचाई पर बनाया गया है. जो अमेरिका के कोलोराडो में स्थित है. यह ब्रिज अमेरिका का सबसे ऊंचा सस्पेंशन ब्रिज है. 1929 से 2001 तक इसके नाम दुनिया के सबसे ऊंचे ब्रिज होने का रिकॉर्ड था, लेकिन 2001 में चीन के लियूगुआंग ब्रिज के बनने से यह रिकॉर्ड इससे खत्म हो गया.

हालांकि, 2012 तक यह दुनिया के 10 सबसे ऊंचे ब्रिज में शुमार हुआ करता था. इसका निर्माण1929 में महज 6 महीने जून से नवंबर के बीच हुआ था. उस समय इस पर 3.50 हजार अमेरिकी डॉलर खर्च आया था.

ट्रिफ्ट ब्रिज, स्विट्जरलैंड

ट्रिफ्ट ब्रिज की ऊंचाई 100 मीटर है. ये ब्रिज 170 मीटर लंबा है. इस संकरे ब्रिज का निर्माण 2004 में हुआ था. यह ब्रिज आल्प्स पर्वत पर ट्रिफ्टसी झील के ऊपर बनाया गया है. इस ब्रिज की खास बात ये है कि इसे पैदल यात्रियों के लिए बनाया गया है. इस ब्रिज पर चलने के लिए आपका दिल मजबूत होना चाहिए. ट्रिफ्ट ग्लेशियर को देखने के लिए हर साल वहां 20,000 पर्यटक जाते हैं.

मिलौ विडक्ट ब्रिज, फ्रांस

मिलो विडक्ट पुल को दुनिया का सबसे ऊंचा पुल माना जाता है. इसकी ऊंचाई का अंदाजा आप इससे ही लगा सकते हैं कि यह एफिल टावर से भी 132 फीट यानी 40 मीटर ऊंचा है. इसकी ब्रिज की ऊंचाई 343 मीटर है. यह टार्न घाटी के ऊपर बना हुआ है. इसे आधुनिक इंजीनियरिंग का सबसे नायाब कारनामा माना जाता है.

बता दें कि मिलौ विडक्ट ब्रिज को अपनी आधुनिक डिजाइन के लिए जाना जाता है. इसके निर्माण की शुरुआत अक्टूबर 2001 में हुई थी, जो करीब 3 साल में बनकर तैयार हुआ. इसे दिसंबर 2004 में आम लोगों के लिए खोल दिया गया. इसके निर्माण में 24 अरब 94 करोड़ रुपये से अधिक की लागत आई थी. बता दें कि फ्रांस की टार्न घाटी में ट्रैफिक की समस्या से निजात दिलाने के लिए इस ब्रिज का निर्माण किया गया था.

चेसापीक ब्रिज, अमेरिका

यह गाड़ी ड्राइव करने के लिहाज से दुनिया का सबसे डरावना ब्रिज है. यहां तक की इस ब्रिज को पार करने के लिए कुछ एजेंसिया प्राइवेट ड्राइवर तक उपलब्ध कराती हैं. इस ब्रिज की लंबाई लगभग 7 किलोमीटर है यह अमेरिका के मैरीलैंड राज्य में है, जो ग्रामीण पूर्वी तट को शहरी पश्चिमी तट से जोड़ता है. इस ब्रिज को 1952 में आम लोगों के लिए खोला गया था.

 

तमन नेगारा नेशनल पार्क ब्रिज, मलेशिया

यह खतरनाक सस्पेंशन ब्रिज मलेशिया के तमन नेगारा नेशनल पार्क में स्थित है. यह ब्रिज 530 मीटर लंबा और 40 मीटर ऊंचा है. बरसात के दिनों में यह और खतरनाक बन जाता है. यह दुनिया का पैदल चलने वाला सबसे लंबा पुल है.

मरीएनब्रुके, जर्मनी

इस ब्रिज को आल्प्स पर्वतमाला की दो चोटियों को जोड़ते हुए बनाया गया है. यह ब्रिज पर्यटकों के बीच एडवेंचर के लिए खासा पसंद किया जाता है. इस ब्रिज को देखने दूर-दूर से लोग आते हैं. यह ब्रिज 90 मीटर ऊंचा है.

ये भी पढ़ें- टॉयलेट सीट के नीचे खतरनाक सांप को देखकर इस शख्स का हुआ ये हाल

First published: 6 September 2018, 16:03 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी