Home » अजब गजब » pakistani girl got married with lucknow boy they thank foreign minister sushma swaraj for help hindi news latest news
 

पाकिस्तानी लड़की ने की हिन्दुस्तानी लड़के से शादी, विदेश मंत्री ने दिया ये तोहफा

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 January 2018, 17:03 IST

भारत और पाकिस्तान के रिश्ते हमेशा कड़वाहट भरे रहे हैं. भारत की ओर से दोनों देशों के संबंधों को सुधारने की हमेशा पहल की जाती रही है. बावजूद इसके पाकिस्तान का रुख सकारात्मक नहीं दिखाई देता. पाकिस्तान में ऐसे कई परिवार हैं जिनके संबंधी भारत में रहते हैं और आज भी उन संबंधों को मजबूत करने के लिए ये लोग अपनी बेटियों की शादी भारत में बसे अपने संबंधियों के यहां करना चाहते हैं.

ऐसा ही एक मामला हाल ही में देखने को मिला. जब एक पाकिस्तानी लड़की की शादी लखनऊ में संम्पन्न हुई. मगर इससे पहले इस पाकिस्तानी दुल्हन को शादी के लिए दो साल इंतजार करना पड़ा. क्योंकि लड़की के परिवार को भारत का वीजा नहीं मिल पा रहा था. लेकिन विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने हमेशा की तरह इस बार भी कड़वाहट भुलाकर इस परिवार को वीजा दे दिया.

कौन है ये पाकिस्तानी दुल्हन-

कराची की रहने वाली सबाहत फातिमा का रिश्ता दो साल पहले लखनऊ के नकी अली खान के साथ तय हुआ था. शादी भी दो साल पहले होने वाली थी. लेकिन वीजा न मिलने की वजह से सबाहत भारत नहीं आ सकती थी. इसलिए दोनों की शादी दो साल तक नहीं हो पाई.

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मांगी मदद-

सबाहत ने पिछले साल जुलाई में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से ट्विटर पर वीजा मांगने की गुहार लगाई, लेकिन विदेश मंत्री की ओर से उन्हें कोई जवाब नहीं मिला. उसके बाद सबाहत लगातार विदेश मंत्री स्वराज को ट्वीट करती रहीं.

अंत में विदेश मंत्री ने सुनी सबाहत की गुहार-

कई महीनों के ट्वीट के बाद आखिरकार विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने सबाहत की गुहार सुनी, और उन्हें भारत का वीजा दिलवा दिया. पिछले हफ्ते सबाहत और नकी की शादी हो गई.

नवयुगल ने सुषमा को कहा शुक्रिया-

शादी के बाद नकी और फातिमा बेहद खुश हैं और दोनों ही विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को तहे दिल से शुक्रिया कह रहे हैं. इस जोड़े का कहना है, ‘सुषमा स्वराज जी ने हमें बेहद ही खास गिफ्ट दिया, हम उनके बहुत आभारी हैं. हमें उम्मीद है कि भारत सरकार जल्द ही फातिमा को भारत की नागरिकता भी दे देगी।’

 

पाकिस्तान में बस गया था सबाहत का परिवार-

नकी अली खान के भाई के मुताबिक दूल्हे की दादी और दुल्हन की नानी आपस में बहनें थीं और आजादी से पहले साथ में लखनऊ में रहती थीं. लेकिन विभाजन के समय सबाहत का परिवार पाकिस्तान में जाकर बस गया.

First published: 23 January 2018, 17:03 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी