Home » अजब गजब » People are banned from dying in Longyearbyen
 

एेसा देश जहां लोगों के मरने पर लगा है बैन

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 April 2017, 12:05 IST

आपने कई देशों में कई तरह की चीजों पर बैन लगने के बारे में सुना होगा. कहीं वेस्टर्न डे्रसेस पहनने पर बैन होता है, तो कहीं बीच पर बिकिनी, लेकिन यह मामला अपने आप में ही काफी अनोखा है.

दुनिया में एक ऐसा देश भी है जहां मौत पर ही बैन है. मतलब यह कि इस देश में कोई मर नहीं सकता. यह सच है. नॉर्वे के छोटे से शहर लॉन्गइयरबेन में प्रकृति के नियमों के खिलाफ प्रशासन ने मौत पर पाबंदी लगा दी है. नॉर्वे और उत्री धु्रव के बीच स्थित इस आइलैंड पर खून जमा देने वाली ठंड पड़ती है. सर्दियों के मौसम में यहां तापमान इतना कम हो जाता है कि जिंदगी मुश्किल हो जाती है. 2000 की आबादी वाले इस शहर में लोगों को मरने की इजाजत नहीं है. यही वजह है कि यहां पिछले 70 सालों से किसी की मौत नहीं हुई है.

दरअसल यह पाबंदी इसलिए लगानी पड़ी क्योंकि यहां कड़ाके की ठंड होती है. जिसके चलते बॉडी सालों तक ऐसी की ऐसी ही पड़ी रहती है. ठंड की वजह से न तो वो गलती है और न ही सड़ती है. सालों तक शव नष्ट नहीं हो पाता. एक शोध में पाया गया कि साल 1917 में जिस शख्स की मौत इनफ्लुएंजा की वजह से हुई उसके शव में इंनफ्लुएंजा के वायरस जस के तस पड़े थे. जिससे बीमारी फैलने का खतरा मंडराने लगा। इसके बाद प्रशासन ने इस शहर में मौत पर पाबंदी लगा दी. अब यहां जो भी व्यक्ति मरने वाला होता है या कोई इमरजेंसी आती है तो उस व्यक्ति को हेलिकॉप्टर से देश के दूसरे इलाके में ले जाया जाता है और मरने के बाद वहीं उसका अंतिम संस्कार किया जाता है.

First published: 28 April 2017, 12:05 IST
 
अगली कहानी