Home » अजब गजब » Philadelphia Experiment USS Eldridge Ship Battle of the Atlantic
 

जब समुद्र से अमेरिका ने गायब कर दिया था अपना जहाज, आज भी रहस्य है इसकी कहानी

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 March 2020, 15:40 IST

दुनिया में ऐसी कई चीजें हुई है जिसकी जानकारी आम इंसानों को आज तक नहीं हुई है लेकिन जब इनकी जानकारी सामने आती है तो लोग हैरान हो जाते है. ऐसा ही एक किस्सा दूसरे विश्व युद्ध के बाद का है जिसके बारे में जानकर आप हैरान हो जाएंगे. कहा जाता है कि 28 अक्टूबर 1943 को अमेरिका सेना ने एक एक्सपेरिमेंट  किया था जिसमें उन्होंने एक जहाज को पूरी तरह से गायब ही कर दिया था.

कहा जाता है कि यूएस नेवी ने डॉ फ्रैंकलिन रेनो के साथ मिलकर नेवल डिस्ट्रॉयर, यूएसएस एल्ड्रिज पर फिलाडेल्फिया एक्सपेरिमेंट का परीक्षण किया. अल्बर्ट आइंस्टीन के सापेक्षता के सिद्धांत पर आधारित प्रयोग, जहाज को दुश्मन के रडार और लोगों के नजरों से भी गायब करने के लिए यह प्रयोग किया जा रहा था.

बताया जाता है कि इस जहाज पर दो बड़े जनरेटर, चुंबकीय कॉइल और एम्पलीफायरों लगे हुए थे. माना जाता है कि इस प्रयोग में  अमेरिकी सेना मैग्नेटिक फील्ड (चुंबकीय क्षेत्र) में रहस्यमय बदलाव करना चाहती थी. अमेरिकी सेना चाहती थी कि इस प्रयोग के जरिए वो जहाज को गयाब कर देती. अगर यह परीक्षण सफल रहा होता, तो यह युद्ध के बीच में, अंतिम हथियार बन जाता. लेकिन यह प्रयोग सफल नहीं हो पाया और अमेरिकी सेना ने इस प्रयोग के भयावह परिणाम देखें.

कहा जाता है कि जैसे ही जनरेटर को चालू किया गया वैसे ही उसके आस-पास पानी में बुलबुले निकलने लगे इतना ही नहीं हरा धुआं भी आने लगा. कहा जाता है कि इस धूंए के आने के बाद पहले जहाज रडार से गायब हुआ और वो देखते ही देखते लोगों की नजरों से भी ओझल हो गया.

जहाज से गायब होेते ही अमेरिकी सेना खुश हो गई उन्हें लगा उनका प्रयोग सफल हुआ इसके बाद उन्होंने जहाज को वापस लाने की कवायद शुरू की लेकिन ऐसा हो ना सका. उस जहाज में अमेरिकी सैनिक भी थे ऐसे में  अधिकारियों की चिंता बढ़ने लगी लेकिन उनके सारे प्रयास विफल गए ऐसे में अधिकारियों ने हार मान ली लेकिन तभी अमेरिकी नौसेना को यूएसस एल्ड्रिज जहाज टेस्ट की जगह से 300 किमी दूर नजर आने की जानकारी मिली.

कहा जाता है कि जब सैनिकों को जहाज मिला तो उनके होश उड़ गए थे क्योंकि जहाज पर कई सैनिकों की मौत हो गई थी. वहीं कुछ सैनिक जो जिंदा मिले तो वो पागल हो गए थे और कुछ सैनिक जहाज के मलबे में ही दबे पाए गए थे.

जब एक बाल्टी के लिए दो देशों में हुआ था भीषण युद्ध, दो हजार से अधिक लोगों की गई थी जान

First published: 18 March 2020, 15:13 IST
 
अगली कहानी