Home » अजब गजब » Pregnant woman murdered cutting baby from victim's womb
 

प्रेग्नेंट लड़की का कत्ल कर पेट फाड़कर निकाल लिया बच्चा, ऐसे हुआ मामले का खुलासा

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 May 2019, 14:00 IST

अमेरिका के शिकागो में कुछ दरिंदों ने दरिंदगी की सभी हदें पार कर एक प्रेग्नेंट महिला की हत्या कर दी. उसकी हत्या कर उसका पेट फाड़कर गर्भ से बच्चे को निकाल लिया. इस मामले में पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया है.हत्या करने वालों में एक मां-बेटी शामिल हैं, पुलिस ने तीसरा हत्यारोपी महिला के प्रेमी क बताया है.

शिकागो पुलिस के मुताबिक ये घटना 23 अप्रैल की है. जब 19 साल की प्रेग्नेंट मार्लेना ओचाओ लोपेज को उनकी जानने वाली ने अपने घर बुलाया था. उन्होंने मार्लेना को बुलाते हुए कहा था कि उन्हें उसे कुछ सामान देना है. जिस महिला ने मार्लेना को अपने घर बुलाया उसका नाम क्लारिसा फिग्युरोआ थी. क्लारिसा ने उसे कहा कि वे उसे बच्चे के काम आने वाला कुछ सामान मुफ्त में देंगे. इसके बाद मार्लेना ओचाओ लोपेज क्लारिसा के घर पहुंच गई.

घर पहुंचते ही क्लारिसा फिग्युरोआ ने अपनी 24 साल की बेटी डेसीरी के साथ मिलकर मार्लेना ओचाओ लोपेज की गला दबाकर हत्या कर दी. उसके बाद दोनों ने मार्लेना का पेट फाड़ दिया और उसके गर्भ से बच्चा निकाल लिया. इस घटना के बाद क्लारिसा फिग्युरोआ ने इमरजेंसी नंबर पर फोन किया और दावा किया कि उसने एक बच्चे को जन्म दिया है और वह सांस नहीं ले पा रहा है.

आपातकालीन सेवा के कर्मचारियों ने नवजात को अस्पताल में भर्ती कराया. हालांकि, बच्चे की हालात के बारे में पुलिस ने कुछ भी बताने से इनकार कर दिया. पुलिस के मुताबिक इसी दौरान उन्हें मार्लेना के लापता होने की भी सूचना मिली. उसके बाद पुलिस ने मार्लेना की तलाश शुरु की.

पुलिस की जांच में तब मोड़ आया जब पुलिस को मार्लेना और क्लारिसा फिग्युरोआ के बीच सात मई को फेसबुक पर हुई बातचीत के बारे में पता चला. उसी के बाद क्लारिसा ने मार्लेना ओचाओ लोपेज को अपने घर बुलाया था. इस बात का खुलासा होते ही पुलिस फिग्युरोआ के घर पहुंची और तलाशी शुरु की.

छानबीन के दौरान पुलिस को घर के पीछे रखे बड़े कूड़ेदान से मार्लेना लोपेज की लाश मिली. इसके बाद पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराया और उसका डीएनए टेस्ट भी कराया. साथ ही बच्चे का भी डीएनए टेस्ट किया गया. जांच में यह साबित हो गया कि बच्चा मार्लेना ओचाओ लोपेज का है

पुलिस ने क्लारिसा फिग्युरोआ और उसकी बेटी डेसीरी के खिलाफ तलाशी वारंट निकलवाया. साथ ही क्लारिसा के 40 साल के प्रेमी पिओट्र बोबाक को भी आरोपी बनाया है, जिस पर हत्या की बात छिपाने का आरोप लगा हैशिकागो पुलिस के प्रमुख एडी जॉनसन ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान इसे 'जघन्य और बेहद व्यथित' करने वाला अपराध बनाया. जॉनसन ने कहा कि मैं कल्पना भी नहीं कर सकता कि इस समय परिवार पर क्या बीत रही होगी. जिस समय उनके घर में खुशियां मनाई जानी चाहिए थीं अब वहां मां और बच्चे के जाने का शोक मनाया जा रहा है.

First published: 18 May 2019, 13:54 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी