Home » अजब गजब » ryugyong Building of North Korea
 

साल 1987 में शुरू हुआ था इस होटल का निर्माण लेकिन आज तक नहीं हो पाया पूरा

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 February 2020, 18:50 IST

उत्तर कोरिया (North Korea ) वैसे को अपना तानाशाह किंग जोन उंग (Kim Jong-un) के कारण अक्सर चर्चा में रहता है. उत्तर कोरिया अपने मिसाइलों के परीक्षण के लिए काफी चर्चा में रहता है. इतना ही नहीं यहां के कानून भी काफी अजीबोगरीब है. लेकिन उत्तर कोरिया में कुछ ऐसी जगहें और ऐसी चीजें हैं जिनके बारे में सुनकर आपको हैरानी होगी.

उत्तर कोरिया की राजधानी प्योंगयोंग में पिरामिड नुमा एक गगनचुंबी इमारत, यह एक होटल है. वैसे तो इस होटल का नाम रयुगयोंग (Ryugyong) है लेकिन स्थानिय लोग इसे यू-क्यूंग के नाम से बुलाते है.


रयुगयोंग की ऊंचाई करीब 330 मीटर हैं जिसमें 105 कमरे हैं जो बाहर से देखने में काफी हैरान है. लेकिन आपको जानकर काफी हैरानी होगी कि इसमें आज तक कोई भी व्यक्ति नहीं ठहरा है. रयुगयोंग को '105 बिल्डिंग' के नाम भी जाना जाता है. लेकिन यह होटल एकदम वीरान है.

इस होटल का निर्माण करीब 1987 में शुरू हुआ था. कहा जाता है कि पहले उम्मीद जताई गई थी इसका निर्माण करीब दो साल में बनकर तैयार हो जाएगा. कभी इस होटल को बनाने के निर्माण में दिक्कत आई तो कभी इसके निर्माण के लिए सामग्री उपलब्ध नहीं हो पाई. होते होते साल 1992 आ गया लेकिन तब भी इस होटल का निर्माण कार्य पूरा नहीं हो पाया था. ऐसे में इसके निर्माण को रोकना पड़ा क्योंकि उस दौरान उत्तर कोरिया की आर्थिक स्थिति काफी खराब हो गई थी.

इस होटल के बारे में कहा जाता है कि अगर यह 1990 से पहले पहले बनकर तैयार हो जाता तो वह दुनिया की सातवीं सबसे ऊंची इमारत होता साथ ही वो दुनिया की सबसे ऊंचे होटल के तौर पर अपनी पहचान बनाता. जापानी मीडिया के एक रिपोर्ट के अनुसार इस होटल के निर्माण में उत्तर कोरिया अभी तक कुल 47 अरब रुपये खर्च यानि करीब 750 मिलियन डॉलर खर्च कर चुका है. अगर इस रकम का हिसाब लगाया जाए तो यह उत्तर कोरिया की जीडीपी का करीब दो फीसदी है.

न्यूजीलैंड पुलिस में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस को किया गया तैनात, 3 महीने करेगी काम

First published: 15 February 2020, 18:44 IST
 
अगली कहानी