Home » अजब गजब » Scientists finds hair Ancient Egyptian noblewomen perfectly preserved 3000 years
 

वैज्ञानिकों ने 3000 साल पुरानी ममी पर किया शोध, सामने आए चौंकाने वाले नतीजे

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 July 2019, 13:12 IST

दुनियाभर में प्राचीन काल की तमाम चीजें मौजूद हैं. जिनमें से मिस्र के पिरामिड भी एक हैं. मिस्र के पिरामिडों के बारे में हमेशा चौंकाने वाले खुलासे होते रहते हैं. जो हर किसी को आश्चर्य में डाल देते हैं. मॉस्को के कुर्चतोव इंस्टीट्यूट के वैज्ञानिकों ने भी कुछ इसी तरह की खोज की है. जिसे अबतक की सबसे अनोखी खोज माना जा रहा है.

दरअसल, रूसी वैज्ञानिकों के एक दल ने प्राचीन मिस्र की तीन ममी के बालों पर शोध किया है. ये ममी करीब 3000 साल तक सुरक्षित रखी रहीं. वैज्ञानिकों ने इन ममी के बालों के बारे में पता लगाया कि आखिर इन ममी के बाद इतने सालों तक सुरक्षित कैसे बने रहे. ममी के बालों को सुरक्षित रखने को लेकर ही वैज्ञानिकों ने इस शोध में चौंकाने वाले खुलासे किए हैं.

शोध में शामिल वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि एक खास तरह के बाम की वजह से ममी के बाल 3000 साल तक सुरक्षित रहे. शोधकर्ताओं के मुताबिक, ममी के बालों पर देवदार का गोंद लगाया गया था, जिसमें कई तरह के प्राकृतिक रसायन भी शामिल थेइस शोध के दौरान वैज्ञानिकों ने बालों के रहस्य का पता लगाने के लिए इन्फ्रारेड स्पेक्ट्रम का इस्तेमाल किया. जिससे पता चला कि बालों पर लगाए गए बाम में बीफ फैट, अरंडी, पिस्ता का तेल और मधुमक्खियों से तैयार किए गए मोम का भी इस्तेमाल किया गया था.

रूसी वैज्ञानिकों का दावा है कि ममी को तैयार करने के लिए दो तरह का लेप तैयार किया जाता था. इसमें एक लेप का इस्तेमाल बालों पर लगाने के लिए और दूसरे का इस्तेमाल शरीर पर लगाने के लिए किया जाता था. रिसर्च में जिन ममीज का इस्तेमाल किया गया था, वो फिलहाल मॉस्को के पुशकिन स्टेट म्यूजियम में रखी हुई हैं.

इस बात के पहले भी खुलासे हो चुके हैं कि प्राचीन मिस्र में शवों को ममी बनाने के लिए उसके आंतरिक अंगों को निकाल लिया जाता था. उसके बाद इन अंगों को नमक के साथ रखा जाता था. ताकि नमी हट जाए. साथ ही शरीर पर एक खास किस्म का लेप किया जाता था उसके बाद पूरे शरीर को कपड़े से लपेट दिया जाता था. इसके बाद उन्हें ताबूत में रखकर रेत में दफन कर दिया जाता था, ताकि ममी हजारों सालों तक सुरक्षित बनी रहें.

घूमने के लिए नहीं बल्कि इस काम के लिए जापान के लोग किराए पर ले रहे कार

First published: 13 July 2019, 13:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी