Home » अजब गजब » Slum Village In Indonesia Has Become An Unlikely Tourist Place After A Rainbow Makeover
 

एक स्कूल टीचर ने बदल की इस गांव की तस्वीर, आज पूरी दुनिया में हो रही इसकी खूबसूरती की चर्चा

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 November 2018, 15:17 IST

गांव के बारे में सोचते ही आपकी आंखों के सामने धूल-मिट्टी उडती गलियां और तमाम गंदगी आ जाती होती. क्योंकि गांव की गलियां कच्ची होती हैं. वहां लोग अपने पालतू जानवरों को गलियों से होकर खेतों की ओर जाते हैं. ऐसे में अगर आपसे कोई कहे कि दुनिया में एक ऐसा भी गांव है जहां ना तो धूल मिलेगी और ना ही गंदगी.

यही नहीं अगर ये गांव आज दुनियाभर में अपनी अलग पहचान बना रहा हो तो आप इसे क्या कहेंगे. यकीनन आपको विश्वास नहीं होगाआज हम आपको एक ऐसे ही गांंव के बारे में बताने जा रहे हैं साथ ही कुछ तस्वीीरें भी उस गांव की दिखाएंगे जो आज एक टूरिस्ट अट्रेक्शन बन गया है.

ये गांव आज शहरों को भी मात दे रहा है. वो अपने रंग-बिरंगे कलर्स की वजह से पूरी दुनिया में प्रसिद्ध है. दरअसल, ये गांव इंडोनेशिया में है. जिसका नाम है काम्पुंग पेलंगी. ये गांव कभी दिखने में मलिन बस्ती की तरह लगता था, लेकिन आज ये ‘इंद्रधनुषी गांव’ के रूप में बदल गया है.

अपनी रंग बिरंगी छटा को समेटे दुनिया में ‘इंद्रधनुषी गांव’ के नाम से चर्चित इंडोनेशिया का ये गांव सोशल मीडिया पर खूूब शुर्कियां बटोर रहा है. रंगों के संयोजन से इस गांव को नया रूप दिया गया है. जो बरबस ही पर्यटकों का ध्यान आकर्षित करता है.

यह छोटा सा गांव काम्पुंग पेलंगी इंडोनेशिया के जावा द्वीप पर बसा हुआ है. जो अब पूरी दुनिया में मशहूर हो गया है. इस गांव में 390 घर हैं जिनको अलग-अलग रंगों में रंग दिया गया हैघरों के अलावा गलियों और उनकी दीवारों में भी रंग भर दिया गया है. इस गांव को देखने पर ऐसा महसूस होता है कि आकाश के इंद्रधनुष को निहार रहे हैं.

इस गांव का कायाकल्प करने में करीब 16 लाख रुपए खर्च हुए हैं. इस काम को सरकार और कुछ कंपनियों के सहयोग से पूरा किया गया है. यह गांव पहाड़ों के बीच नदी के किनारे बसा है. पहले यह गांव इंडोनेशिया का स्लम एरिया था. यहां पिछड़े लोग अपने टूटे फूटे घरों में रहते थे.

लेकिन एक स्कूल के प्रिंसिपल ने इस गांव को बदलने के बीड़ा उठाया. 54 साल के स्लामेट विडोडो ने अपने इस गांव को बदलने का प्रस्ताव तैयार किया और स्थानीय सरकार से मिले.

सेन्ट्रल जावा कम्यूनिटी ने उनके प्रस्ताव को मंजूर कर लिया और इस पर तेजी से काम शुरू हो गया. घरों और गलियों की रंगाई के बाद इस गांव की सूरत ही बदल गई. पूरा गांव ऐसे लगता है जैसे किसी चित्र प्रदर्शनी में आ गए हैं. इस गांव को देखने के लिए पर्यटकों की भारी भीड़ जुटी रहती हैं.

ये भी पढ़ें- पोर्न देखने वालों पर सरकार ऐसे कसेगी नकेल, सूचना देने वाले को मिलेगा लाखों रुपये इनाम

First published: 20 November 2018, 15:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी