Home » अजब गजब » Tourists screamed as lions attack vehicle in Karnataka bio-park
 

वीडियोः कर्नाटक के बायो-पार्क में टूरिस्ट एसयूवी पर शेरों ने किया हमला

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 February 2017, 16:31 IST

बेंगलुरु के बन्नेरघट्टा जैविक उद्यान (बीबीपी) में सफारी वाहन पर दो शेरों ने धावा बोल दिया. हालांकि गनीमत रही कि इस हमले में पर्यटको को कोई नुकसान नहीं पहुंचा और वे बाल-बाल बच गए. यह दूसरा मौका है जब पर्यटकों के वाहनों पर हमला हुआ है.

शेरों द्वारा किए गए हमले का शिकार होने वाली गाड़ी इस बार टोयोटा की इनोवा थी. सामान्य सफारी गाड़ी से अलग इस गाड़ी को लेने के लिए अधिकतम किराये का भुगतान करना पड़ता है.

मंगलवार को बीबीपी में शेरों द्वारा किए गए इस हमले को स्थानीय टीवी चैनलों ने दिखाया. हमले के वक्त इनोवा के पीछे चल रही सफारी बस ड्राइवर द्वारा इस घटना का वीडियो बनाया गया.

इसमें साफ दिखाई दे रहा है कि इनोवा के बिल्कुल नजदीक दो शेर पहुंच जाते हैं. एक शेर इनोवा को घेरने-रोकने की कोशिश में लगा होता है जबकि दूसरा उसके अंदर जाने की कोशिश में लगा होता है. दूसरा वाला शेर पिछले शीशे को काट भी लेता है.

वीडियो में पर्यटकों के चीखने की आवाज भी काफी स्पष्ट सुनाई देती है. हालांकि बाद में इनोवा आगे चली जाती है और शेर वहां से चले जाते हैं.

इस घटना की जानकारी देते हुए बीबीपी के कार्यकारी निदेशक संतोष कुमार ने मीडिया को बताया कि यह घटना 28-29 जनवरी की है. इसमें ड्राइवर की पूरी गलती है. ड्राइवर को कार नहीं रोकनी चाहिए. उसे सफारी ड्यूटी से हटा दिया गया है.

उन्होंने कहा कि लोगों को घुमाने के लिए बड़ी गाड़ियों पर जाल लगाया गया था लेकिन छोटी गाड़ियों में हर ओर से जाल लगाना परेशानी भरा है. 

इनोवा के चारों ओर जाल लगे हुए थे लेकिन विंड स्क्रीन और रीयर विंडों पर जाल नहीं थे. राज्य सरकार को प्रस्ताव भेजने की योजना बनाई जा रही है जिससे इस तरह के छोटे वाहनों के स्थान पर केवल सफारी बसों को ही छूट दी जाए. इससे जानवरों और पर्यटकों यानी दोनों की सुरक्षा सुनिश्चित हो सकेगी.

बताया जाता है कि बीबीपी में लगभग 20 शेर हैं जो सफारी क्षेत्र में चार या पांच के झुंड में होते हैं. सितंबर 2016 में भी ऐसे ही एक वाहन पर शेर ने हमला किया था. 

First published: 1 February 2017, 16:31 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी