Home » अजब गजब » Turkmenistan isolated from the world from 28 years
 

तीन दशक से दुनिया से कटा हुआ है ये देश, खूबसूरती देख दीवाने हो जाते हैं लोग

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 May 2019, 12:12 IST

उत्तर कोरिया के बारे में तो हर कोई जानता है कि तानाशाह किम जोंग उन की वजह से ये देश दुनिया से कट गया है. लेकिन आप ये नहीं जानते होंगे कि उत्तर कोरिया के अलावा भी एक देश ऐसा है जो दुनिया के हर देश से कटा हुआ है. इस देश का नाम है तुर्कमेनिस्तान. दरअसल, तुर्कमेनिस्तान पिछले 28 साल से पूरी दुनिया से कटा हुआ है. यहां भी उत्तर कोरिया की तरह ही तानाशाही है.

मध्य एशिया में स्थित इस ये देश तुर्की देश है. इस देश को तुर्कमेनिया के नाम से भी जाना जाता है. ये देश साल 1991 तक सोवियत संघ का एक घटक गणतंत्र था. लेकिन अब इस देश के लोग खुलकर भी नहीं बोल सकते और ना ही कहीं भी घूमने की उन्हें आजादी है.

तुर्कमेनिस्तान की आबादी करीब 50 लाख है. साल 1991 में सोवियत यूनियन से अलग होने के बाद सपरमारुत नियाजोव ने तुर्कमेनिस्तान की सत्ता संभाली. उसके बाद नियाजोव ने इस देश में तानाशाही शुरु कर दी. इसी के चलते यहां के लोग अपने मूल अधिकारों के लिए भी संघर्ष करने लगे.

तानाशाही का आलम ऐसा हो गया कि लोगों को एक जगह से दूसरी जगह जाने पर भी पाबंदी लगा दी गई. वो खुलकर बोल भी नहीं सकते. यहां मीडिया को तो जैसे लोग जानते ही नहीं है और ना ही फोटोग्राफी कर सकते. लेकिन यहां हर जगह आपको राष्ट्रपति के पोस्टर लगे हुए दिखाई दे जाएंगे.

पूरी दुनिया से अलग-थलग होने के बाद भी तुर्कमेनिस्तान दुनियाभर के पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता है. हालांकि इस देश में लोगों को मुफ्त प्राकृतिक गैस सहित कई तरह की सुविधाएं मिलती हैं. लेकिन अपने नागरिकों को कानूनी रूप से सीमित अधिकार देने को लेकर इस देश की हमेशा आलोचना होती रही है.

तुर्कमेनिस्तान में रहने वाले 67 फीसदी लोग तुर्किश हैं. जिनका मुख्य व्यवसाय कृषि है. इस देश के लोग बॉलीवुड फिल्मों के दीवाने हैं. यही वहज है कि यहां के लोग आपको गलियों में आते जाते हिंदी गाने गाते नजर आ जाएंगे. इसी के चलते यहां आज बच्चों को हिंदी भाषा पढ़ाई जाती है.

126 घंटे तक लगातार डांस कर इस लड़की ने बना दिया वर्ल्ड रिकॉर्ड

First published: 6 May 2019, 12:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी