Home » अजब गजब » Unique Death Rituals in Telangana’s Village Gangadevi Palli near Hyderabad
 

इस गांव में किसी की मौत पर शोक मनाने की जगह होता है जश्न, इस अनोखे अंदाज़ में निकलती है अंतिम यात्रा

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 June 2018, 12:03 IST

किसी अपने की मौत के बाद पूरे घर में मातम पसर जाता है. ऐसे में कहीं किसी की मौत पर जश्न मनाया जाए तो इसे आप क्या कहेंगे. दरअसल, हमारे देश में एक ऐसा गांव है जहां किसी की मौत पर परिजन शोक नहीं मनाते, बल्कि घर में जश्न का माहौल होता है.

ऐसी परंपरा तेलंगाना राज्य के एक गांव में निभाई जाती है. ये गांव राजधानी हैदराबाद से 200 किलोमीटर उत्तर में बसा है. इस गांव का नाम है गंगादेवी पल्ली. इस गांव के लोग के बीच ऐसी अनोखी परंपरा सालों से चली आ रही है. जहां किसी के मरने का शोक नहीं किया जाता बल्कि लोग जश्न मनाते हैं.

इस गांव में चाहे कोई किसी बच्चे की मृत्यु हो या किसी बूढ़े की. उसकी शवयात्रा को निकालने की अलग ही प्रथा है. शवयात्रा को यादगार बनाने के लिए यहां के लोग संगीत की धुन पर अंतिम यात्रा निकालते हैं.

ग्रामीणों का मानना है कि मृतक ने ईश्वर द्वारा दिए अपने जीवन के पलों को खुशी-खुशी परिवार संग बिताया. इसलिए अब मरने के बाद उसे दुनिया से भी खुशी-खुशी विदा करना परिवार का कर्त्तव्य है. इसीलिए इस गांव के लोग शवयात्रा के वक्त स्थानीय वाद्ययंत्रों की धुन पर जश्न मनाते हैं. इस दौरान लोग खूब नाचते और झूमते हैं. इतना ही नहीं घर से शमशान घाट तक शवयात्रा में जमकर आतिशबाजी भी की जाती है.

वहीं अंतिम संस्कार करने वाले परिजन अर्थी के आगे हार पहनकर चलते हैं और पूरे धूमधड़ाके के साथ मृतक की अंतिम विदाई की जाती है. बता दें कि इंडोनेशिया में भी कुछ ऐसी ही प्रथा है. जहां एक गांव में लोग हर साल अपने परिजनों के मृत शरीर को कब्र से बाहर निकालते हैं

ये भी पढ़ें- इस शख्स को सड़क पर चलता देख चीखने लगती हैं महिलाएं, 28 साल से मचा रखा है खौफ

First published: 26 June 2018, 12:02 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी