Home » अजब गजब » up news Death Woman Alive in Kgmu Hospital Lucknow
 

...जब बेटे की चीख सुन जिंदा हो गई मां

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 November 2017, 14:03 IST

लखनऊ के नामी सरकारी अस्पताल केजीएमयू (किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय) में डॉक्टरों ने एक महिला को मृत घोषित कर दिया. लेकिन मृत महिला को परिजन जब अंतिम क्रिया के लिए घर ले जा रहे थे, तभी एक चमत्कार हुआ.

जिस मां की सांसें थमने के बाद बेटा दोबार आंख खोलने के लिए चीख-चीख रो रहा था, उसी वक्त उनकी सांसें लौट आई और जोर-जोर से चलने लगी. इसके बाद डॉक्टरों ने फौरन आनन-फानन में महिला मरीज को वापस भर्ती किया.

हुआ यूं कि मां मरीज शमशुल निशा (52) को उनके परिजन आनन-फानन में तेज बुखार होने के चलते केजीएमयू लेकर पहुंचे थे. उन्हें तेज बुखार, दर्द व अन्य की परेशानी के चलते रविवार को केजीएमयू के मेडिसिन विभाग में भर्ती कराया गया. यहां डॉक्टरों ने जांच के दौरान शमशुल निशा की सांसें थमने की जानकारी परिजनों को दी. डॉक्टरों ने इलाज के दौरान उन्हें मृत घोषित कर दिया.

इसके बाद बेटे इमरान समेत परिवार के अन्य लोगों बेहद दुखी होकर रोने लगा. इस दौरान परिजन अंतिम क्रिया के लिए मृतका को घर ले जाने की तैयारी कर रहे थे. तभी डॉक्टरों ने उन्हें मृत्यु प्रमाण पत्र बनवाने के लिए कहा. परिजन इसके लिए तैयार हो गए. तभी एक बार फिर जांच में डॉक्टरों ने महिला मरीज की सांस चलते हुए पाई. धीरे-धीरे उनकी सांसें वापस लौट आई.

एेसा देख डॉक्टरों ने बिना देर किए दोबारा भर्ती कर इलाज शुरू किया. परिजनों ने महिला को मृत घोषित करने वाले डॉक्टरों पर गंभीर लापरवाही का आरोपी लगाते हुए कार्रवाई की मांग की है.

किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी के चिकित्सा अधीक्षक विजय कुमार का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है. संबंधित डॉक्टर को तलब किया गया है. वहीं महिला का इलाज जारी है. मरीज को वेंटिलेटर पर रखा गया है.

First published: 6 November 2017, 14:03 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी