Home » अजब गजब » Wold’s Most Dangerous Alnwick Poison Garden in in North Umberland In UK
 

इस सुंदर बगीचे में घूमना तो दूर नाम से ही कांपने लगते हैं लोग, यहां जाने वाला नहीं लौटता वापस

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 January 2019, 17:08 IST

अक्सर लोग मॉर्निंग वॉक के लिए किसी गार्डन में जाना पसंद करते हैं, जहां हरे-भरे पेड़-पौधे और घास हो. वहीं अगर आपको किसी ऐसे गार्डन में जाने के लिए कहा जाए जहां जाने पर इंसान की मौत हो जाती है. तो आपका जवान यकीनन ना में होगा. दरअसल, ऐसा ही एक बगीचा है. जहां लोग टहलना तो दूर जाने से भी घबराते हैं. इसीलिए इस बगीचे में लोगों को गार्ड के साथ जाने की सलाह दी जाती है. अगर कोई गलती से भी इस बगीचे में चला जाता है तो वो जिंदा वापस नहीं लौटता.

बता दें कि ये बगीचा यूनाइटेड किंगडम के नॉथंबरलैंड में स्थित है. इस बगीचे का नाम अलन्विक पाइजन गार्डन्स है. इस गार्डन को दुनिया का सबसे खतनाक गार्डन माना जाता है. अलन्विक गार्डन उत्तरी इंग्लैंड के सबसे सुंदर आकर्षणों में से एक है, जहां के रंग-बिरंगे पौधे, खुशबूदार गुलाब, मैनीक्योर किए गए टॉपियर और कैस्केडिंग फव्वारों की पंक्तियां लोगों को अपनी और आकर्षित करती हैं.

हालांकि अलन्विक गार्डन की की सीमाओं के अंदर, काले लोहे के दरवाजे पर साफ़ लिखा है कि फूलों को रूककर सूंघना और चुना मना है. अब ये बगीचा जहर गार्डन नाम से मशहूर हो चुका है. बता दें कि ये बगीचा 100 कुख्यात हत्यारों का घर है. माना जाता है कि इस बगीचे में जाने के बाद अगर जरा सी भी चूक हो जाए तो आपकी जान जा सकती है.

बगीचे में घुसने से पहले मुख्य प्रवेश द्वार पर चेतावनी के तौर पर खतरे का निशान बनाया गया है. बता दें कि ये बगीचा करीब 14 एकड़ क्षेत्र में फैला हुआ है. इस बगीचे में करीब 700 जहरीले पौधे हैं. घूमने के दौरान गाइड इन पेड़ों के जहरीले गुणों के बारे में बताता है. बताया जाता है कि इन जहरीले पौधों का इस्तेमाल शाही दुश्मनों को हराने के लिए किया जाता था. इसी वजह से इस बगीचे के दरवाजों के बाहर 24 घंटे सुरक्षाकर्मी खड़े रहते हैं.

बता दें कि 1995 में, जेन पर्सी अपने पति के भाई की अप्रत्याशित रूप से मृत्यु के बाद नॉर्थम्बरलैंड कि डचेज ऑफ नॉर्थम्बरलैंड बन गयी, जो स्कॉटलैंड के साथ सीमा तक फैला हुआ था. परिवार के महल में रहने के बाद, पर्सी के पति ने उसे बगीचों के साथ कुछ करने के लिए कहा, जो उस समय एक बेकार वन की तरह पड़ा था.

ये भी पढ़ें- देश के इस स्थान पर अक्सर आते हैं एलियंस, कई लोग देख चुके हैं स्पेसशिप

First published: 8 January 2019, 17:08 IST
 
अगली कहानी