Home » अजब गजब » World's biggest cave fish in Meghalaya, PM Modi mentioned in Mann ki Baat
 

ऐसा क्या है दुनिया की सबसे बड़ी 'गुफा मछली' में, जिसकी खूबी PM मोदी ने 'मन की बात' में बताई

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 February 2020, 19:11 IST

World's Biggest Cave Fish: प्रधानमंंत्री नरेंद्र मोदी ने आज एक बार फिर मन की बात कार्यक्रम के माध्यम से देश के लोगों को संबोधित किया. मन की बात कार्यक्रम में पीएम मोदी ने एक ऐसी मछली का जिक्र किया जिसके बारे में लोग अचानक से यूट्यूब और गूगल पर सर्च करने लगे हैं. इस मछली का नाम है 'गुफा मछली'.

यह मछली मेघालय के घने जंगल और गहरे पर्वतीय गहवरों में पाई जाती है. गुफाओं में पाई जाने वाली मछलियों में यह सबसे बड़ी है. आकार में यह करीब 1.5 फुट तक है. इस मछली का वजन 800 ग्राम से एक किलो तक है. गुफा मछली 300 फुट नीचे जमीन के अंदर पाई जाती है.

मछली की इस प्रजाति की खोज नेशनल जियोग्राफी के अनुसंधानकर्ता डैनियल हैरिस ने हाल ही में की है. वैज्ञानिकों ने अब तक दुनियाभर में भूमिगत गुफाओं में पाई जाने वाली मछलियों की तकरीबन 250 प्रजातियों खोजी है, इसमें मेघालय में पाई गई भूमिगत मछली का आकार 10 गुना ज्यादा बड़ा है. 

पीएम मोदी ने मन की बात कार्यक्रम में भारत की जैव-विवधता का जिक्र करते हुए इस  मछली के संबंध में कहा, "हाल ही में जीव विज्ञानियों ने मछली की एक ऐसी नई प्रजाति की खोज की है जो मेघालय में गुफाओं के अंदर पाई जाती है. माना जा रहा है कि यह मछली गुफाओं में रहने वाली जल जीवों की प्रजाति में सबसे बड़ी है."

उन्होंने कहा, "हमारे आसपास ऐसे बहुत सारे अजूबे हैं जिनका अभी तक पता नहीं चला है. इन अजूबों का पता लगाने के लिए खोजी जूनून जरूरी होता है. पीएम ने बताया कि यह मछली ऐसी गहरी और अंधेरी भूमिगत गुफाओं में रहती है जहां रोशनी भी शायद ही पहुंच पाती है"

पीएम मोदी ने कहा, "वैज्ञानिक भी इस बात से आश्चर्यचकित हैं कि इतनी बड़ी मछली इतनी गहरी गुफाओं में कैसे जीवित रहती है. यह एक सुखद बात है कि हमारा भारत और विशेष तौर पर मेघालय दुर्लभ प्रजाति का गढ़ है. यह भारत की जैव-विविधता को एक नया आयाम देने वाला है."

अगर रात में नहीं लेते हैं पूरी नींद तो हो जाएं सावधान, ये गंभीर बीमारियां ले सकती हैं जान

करेले के सेवन से कैंसर जैसी बीमारी को दी जा सकती है मात, होते हैं ये भी अचूक फायदे

First published: 23 February 2020, 19:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी