Home » बिहार » Bihar: After rajde murder another Journalist killed
 

नीतीश के सुशासन में एक और पत्रकार की हत्या, खनन माफिया पर शक

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 November 2016, 12:06 IST
(एजेंसी)

बिहार में अपराधियों के हौसले दिन-प्रतिदिन बढ़ते जा रहे हैं. सुशासन बाबू यानी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के मंसूबों पर बेखौफ अपराधी लगातार पानी फेर रहे हैं.

रोहतास जिले के मुख्यालय सासाराम में अपराधियों ने एक और पत्रकार की गोली मारकर हत्या कर दी है. बताया जा रहा है कि मुफस्सिल थाना क्षेत्र में शनिवार को अज्ञात अपराधियों ने एक हिंदी दैनिक के पत्रकार धर्मेद्र सिंह की गोली मार कर हत्या कर दी.

सासाराम में बाइक सवारों ने मारी गोली

इस मामले में एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि सुबह पत्रकार धर्मेद्र सिंह अमरातालाब क्षेत्र स्थित एक चाय की दुकान पर चाय पी रहे थे, तभी एक मोटरसाइकिल से आए तीन अपराधियों ने उन्हें गोली मार दी.

उसके बाद स्थानीय लोग तुरंत उन्हें इलाज के लिए सदर अस्पताल ले गए, लेकिन स्थिति गंभीर होते देख डॉक्टरों ने उन्हें उत्तर प्रदेश के वाराणसी में इलाज के लिए रेफर कर दिया गया.

खनन माफिया के निशाने पर

बताया जा रहा है कि वाराणसी ले जाने के दौरान रास्ते में ही उनकी मौत हो गई. खबरों के मुताबिक पत्रकार धर्मेद्र सिंह अवैध खनन करने वाले माफियाओं के निशाने पर थे.

इस हत्याकांड के बाद सासाराम सहीत पूरे बिहार में पत्रकारों के बीच नीतीश सरकार के कानून-व्यवस्था को लेकर गंभीर आक्रोश है.

22 जुलाई को राजदेव की हत्या

गौरतलब है कि इससे पहले 22 जुलाई को हिंदी दैनिक 'हिंदुस्‍तान' के वरिष्ठ पत्रकार राजीव रंजन की भी सिवान में गोली मारकर हत्‍या कर दी गई थी. उनकी हत्‍या उस समय हुई थी जब वह अपने घर वापस लौट रहे थे.

उस मामले को चार माह बीत चुके हैं लेकिन अभी तक कोई भी ठोस सुराग हाथ नहीं लगा है. इस मामले की जांच सीबीआई कर रही है. राजीव पिछले 22 वर्षों से हिंदुस्‍तान के साथ जुड़े थे और उनकी हत्‍या के बाद शक आरजेडी नेता शहाबुद्दीन और उसके गुर्गों पर है.

First published: 12 November 2016, 12:06 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी