Home » बिहार » bihar board 12th result After ruby rai this year intermediate arts topper Ganesh is also in under question
 

रूबी राय के बाद बिहार बोर्ड का टाॅपर गणेश भी संदेह के घेरे में, चार दिन से लापता

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 June 2017, 14:04 IST

बिहार बोर्ड के इंटर के नतीजे घोषित होते ही हंगामा शुरु हो गया है. बिहार बोर्ड के 64 फ़ीसदी छात्र परीक्षा में फेल हो चुके है. पिछले साल की आर्ट्स टॉपर रही रूबी राय ने कैमरे के सामने पॉलिटिकल साइंस को प्रॉडिकल साइंस बताया था. तब जांच के दौरान इंटर परीक्षा में होने वाले घोटाले की पोल खुल गई थी. उस घोटाले को लेकर बदनाम बिहार बोर्ड का इस साल का आर्ट्स टॉपर गणेश कुमार भी सवालों के घेरे में आ गया है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जिस स्कूल से गणेश कुमार ने टॉप किया है, उसमें एक भी प्रशिक्षित शिक्षक नहीं है. स्कूल में मात्र छह क्लास रूम हैं. इनमें न तो दरवाजा है और न ही खिड़की. ना ही दीवार पर प्लास्टर है और न ही फर्श बना है. प्रयोगशाला भी नाम के लिए है. लाइब्रेरी में नाममात्र की किताबें हैं. भवन की पक्की छत भी नहीं है. ना ही स्कूल में बिजली है.

सबसे बड़ी बात तो यह है कि इस स्कूल के नाम की जानकारी जिला शिक्षा पदाधिकारी तक को भी नहीं थी. हालांकि, स्कूल प्रबंधन की राजनीतिक गलियारों में पहुंच होने की बात सामने आ रही है. गणेश गिरिडीह से इस साधनविहीन स्कूल में क्यों पढ़ने आया? यह शक पैदा कर रहा है.

दूसरी संदेहास्पद बात यह कि इस स्कूल में म्यूजिक का कोई सामान उपलब्ध नहीं है. लेकिन, टॉपर गणेश ने म्यूजिक विषय से परीक्षा और दी और उसे प्रैक्टिकल में 70 में 65 अंक भी मिले. वहीं, म्यूजिक के 30 अंक की थ्योरी में उसे 18 अंक मिले हैं. हिंदी में 100 में 92 अंक मिले हैंं. 

First published: 1 June 2017, 14:04 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी