Home » बिहार » Bihar board students score more than total in subjects like math physics
 

CBSE में आते हैं 99 पर्सेंट मार्क्स लेकिन बिहार बोर्ड ने दिए 114 पर्सेंट

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 June 2018, 14:22 IST

बिहार बोर्ड में व्याप्त बदहाली की है एक और खबर सामने आयी है. लेकिन इस बार मामला पिछले बार से कुछ ज्यादा ही अजीब है. दरअसल बिहार स्कूल परीक्षा बोर्ड (बीएसईबी) के परिणाम फिर चर्चा में है. वहीं इसके चर्चा में होने की वजह दो हैं, पहला तो तय से अधिक नंबर तो दूसरा बिना परीक्षा दिए बिना एग्जाम में शामिल हुए रिजल्ट का आना. इस स्कूल परीक्षा बोर्ड में जहां कुछ छात्रों कोे निर्धारित नंबरों से अधिक नंबर मिले हैं ,तो कुछ का कहना है कि उन्होंने तो परीक्षा भी नहीं दी है पर रिजल्ट आया है.

ये भी पढ़ें-वेटिंग लिस्ट: AIIMS में इलाज कराना है तो करिए 5 साल इंतजार

बता दें, इससे दो साल पहले एक अयोग्य छात्रा के टॉपर बनने के बाद बिहार की शिक्षा व्यवस्था पर सवाल उठे थे. जिसमें एक अयोग्य स्टुडेंटस ने बोर्ड की परीक्षा टॉप की थी. लेकिन इस बार मामला अलग है. इस बार 12वीं के कुछ छात्रों ने दावा किया है कि उन्हें किसी-किसी सबजेक्ट में मैक्सिमम नेंबर से भी अधिक नंबर दे दिए गए हैं. तो वहीं, कुछ की शिकायत और भी हैरान करने वाले है कुछ ने कहा उन्होंने कभी परीक्षा नहीं दी फिर भी उनका रिजल्ट आ गया.

टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट के अनुसार, अरवल जिले के रहने वाले भीम कुमार ऐसे ही छात्रों में से एक हैं. जिन्हे तय नंबरों से अधिक नंबर मिले हैं. भीम को गणित की थ्योरी में निर्धारित नंबर से 3 अंक अधिक मिले हैं. थ्योरी में जहां अधिकतम अंक 35 निर्धारित थे तो उन्हे इसकी जगह 38 अंक मिल गए हैं. वहीं, ऑब्जेक्टिव टाइप में उन्हें 35 में 37 अंक मिले हैं. इस पर भीम इस पर भीम हैरान नहीं है उनका कहना है, ‘मैं हैरान नहीं हूं क्योंकि राज्य के परीक्षा बोर्ड में यह लंबे समय से हो रहा है.’

ये भी पढ़ें-अब इस संस्था की शक्तियों को भी छीनना चाहती है मोदी सरकार ?

इसी तरह का एक और मामला पूर्वी चंपारण के संदीप राज का है जिन्हे फिजिक्स में 35 नंबर में से 38 नंबर मिले हैं. तो वहीं अंग्रेजी और हिंदी में उन्हें जीरोे मिला है.

ये भी पढ़ें-एक ही दिन में कांग्रेस के दो नेताओं का निधन, राहुल बोले- उनकी कमी खलेेगी

इसके अलावा वैशाली की एक छात्रा जाह्नवी सिंह कहती हैं कि वे बायोलॉजी की परीक्षा में नहीं बैठी लेकिन, उन्हें 18 अंक आए हैं. इसी तरह पटना के राम कृष्ण द्वारिका कॉलेज के सत्य कुमार ने भी परीक्षा नहीं दी थी लेकिन, उन्हें भी अंक मिले हैं.

First published: 9 June 2018, 14:22 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी