Home » बिहार » Bihar: PM Modi inaugurated 7 infra projects worth Rs 541 crore in Bihar
 

बिहार: PM मोदी ने किया 541 करोड़ की 7 बड़ी परियोजनाओं का उद्घाटन, अपने भाषण में कही ये बड़ी बातें

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 September 2020, 13:53 IST

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बिहार में शहरी बुनियादी ढांचे (इंफ्रास्ट्रक्चर) से संबंधित 7 परियोजनाओं का उद्घाटन किया. इन परियोजनाओं में अधिकतर जल आपूर्ति, सीवरेज ट्रीटमेंट और रिवर फ्रंट डेवलपमेंट से संबंधित परियोजनाएं शामिल हैं. ये योजनाएं 541 करोड़ की बताई गई है. उद्घाटन के अवसर पर पीएम मोदी ने कहा कि आज ये कार्यक्रम एक विशेष दिन पर हो रहा है क्योंकि आज हम इंजीनियर्स डे मना रहे हैं. उन्होंने कहा कि ये दिन देश के महान इंजीनियर एम.विश्वेश्वरैया जी की जन्म-जयंती का है, उन्हीं की स्मृति को समर्पित है, भारतीय इंजीनियरों ने हमारे देश के निर्माण में और दुनिया के निर्माण में भी अभूतपूर्व योगदान किया है.

 


पीएम मोदी ने कहा ''जब शासन पर स्वार्थनीति हावी हो जाती है, वोटबैंक का तंत्र सिस्टम को दबाने लगता है, तो सबसे ज्यादा असर समाज के उस वर्ग को पड़ता है, जो प्रताड़ित है, वंचित है, शोषित है. बिहार के लोगों ने इस दर्द को दशकों तक सहा है.'' पीएम ने कहा ''बीते डेढ़ दशक से नीतीश जी, सुशील जी और उनकी टीम समाज के सबसे कमज़ोर वर्ग के आत्मविश्वास को लौटाने का प्रयास कर रही है. जिस प्रकार बेटियों की पढ़ाई को, पंचायती राज सहित स्थानीय निकाय में वंचित, शोषित समाज की भागीदारी को प्राथमिकता दी गई है, उससे उनका आत्मविश्वास बढ़ रहा है.''

इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि ''अब केंद्र और बिहार सरकार के साझा प्रयासों से बिहार के शहरों में पीने के पानी और सीवर जैसी मूल सुविधाओं में निरंतर सुधार हो रहा है. मिशन अमृत और राज्य सरकार की योजनाओं के तहत बीते 4-5 सालों में बिहार के शहरी क्षेत्र में लाखों परिवारों को पानी की सुविधा से जोड़ा गया है.'' उन्होंने कहा ''बीते 1 साल में, जल जीवन मिशन के तहत पूरे देश में 2 करोड़ से ज्यादा पानी के कनेक्शन दिए जा चुके हैं. आज देश में हर दिन 1 लाख से ज्यादा घरों को पाइप से पानी के नए कनेक्शन से जोड़ा जा रहा है. स्वच्छ पानी, न सिर्फ जीवन बेहतर बनाता है बल्कि अनेक गंभीर बीमारियों से भी बचाता है.''

उन्होंने कहा ''शहरीकरण आज के दौर की सच्चाई है लेकिन कई दशकों से हमारी एक मानसिकता बन गई थी, हमने ये मान लिया था जैसे कि शहरीकरण खुद में कोई समस्या है, एक बहुत बड़ी बाधा है, लेकिन मेरा सोचना अलग है, अगर समस्या लगती है तो उसमें अवसर भी उपलब्ध है. पीएम बोले ''गंगा जी की स्वच्छता को ध्यान में रखते हुए ही बिहार में 6 हज़ार करोड़ रुपए से अधिक की 50 से ज्यादा परियोजनाएं स्वीकृत की गई हैं. सरकार का प्रयास है कि गंगा के किनारे बसे जितने भी शहर हैं, वहां गंदे नालों का पानी सीधे गंगा जी में गिरने से रोका जाए.''

पीएम मोदी ने कहा गंगा जी को निर्मल और अविरल बनाने का अभियान जैसे-जैसे आगे बढ़ता जा रहा है, वैसे-वैसे इसमें पर्यटन के आधुनिक आयाम भी जुड़ते जा रहे हैं. नमामि गंगे मिशन के तहत बिहार सहित पूरे देश में 180 से अधिक घाटों के निर्माण का काम चल रहा है. इसमें से 130 घाट पूरे भी हो चुके हैं.

PM मोदी के बर्थडे पर खून से 71 खत लिखकर करेंगे अलग बुंदेलखंड राज्य की मांग

First published: 15 September 2020, 13:53 IST
 
अगली कहानी