Home » बिहार » BJP leader in Bihar killed for illicit relationship
 

बिहार: क़रीबी ने ही क्यों रची भाजपा नेता की हत्या की साज़िश ?

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 July 2017, 15:05 IST
प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार के गोपालगंज जिले में बुधवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता कृष्णा शाही की हत्या के पीछे अवैध संबंध बताया जा रहा है. पुलिस ने गुरुवार को इस हत्याकांड का खुलासा करते हुए दावा किया कि शाही की हत्या अवैध संबंध के कारण की गई.  

पुलिस का कहना है कि इस मामले में मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है. गोपालगंज के पुलिस अधीक्षक रवि रंजन ने गुरुवार को यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, "अवैध संबंध के कारण ही कृष्णा शाही की हत्या की गई है. मृतक का अपने ही करीबी आदित्य राय की बहन के साथ अवैध संबंध था. अवैध संबंध की जानकारी आदित्य को 15 दिन पहले हुई थी, जिसके बाद कृष्णा की हत्या की साजिश आदित्य ने रची."

उन्होंने कहा कि मंगलवार की रात कृष्णा शाही आदित्य के घर गए थे, जहां उनके खाने में जहरीला पदार्थ मिला दिया गया, जिससे उनकी मौत हो गई. बाद में शव को पास के एक कुएं में डाल दिया गया. पुलिस ने आदित्य को गिरफ्तार कर लिया है.

उल्लेखनीय है कि हथुआ थाना के चैनपुर गांव निवासी और भाजपा व्यावसायिक प्रकोष्ठ के प्रदेश प्रभारी शाही मंगलवार रात मांझा गांव निवासी लालबाबू राय के श्राद्घकर्म में हिस्सा लेने वहां गए हुए थे. इसके बाद वह घर नहीं लौटे थे.

चैनपुर पंचायत की मुखिया शांता शाही के पति शाही के लापता होने की सूचना पुलिस को बुधवार सुबह दी गई. पुलिस ने जब खोजबीन प्रारंभ की तब उनका शव मांझा गांव के ही एक कुएं से बरामद किया गया था. पुलिस की छानबीन से पता चला कि श्राद्धकर्म में भाग लेने के बाद शाही आदित्य के घर गए थे, जहां उनकी हत्या कर दी गई.

First published: 20 July 2017, 15:05 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी