Home » बिहार » Cash crunch in several cities of Bihar ATMs are not dispensing cash
 

'ATM में कैश नहीं होना नोटबंदी घोटाले का है असर'

न्यूज एजेंसी | Updated on: 17 April 2018, 14:53 IST

बिहार की राजधानी पटना सहित राज्य के अन्य हिस्सों में भी अधिकांश ATM में नकदी (CASH) नहीं होने के कारण लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. एक अनुमान के मुताबिक राज्य के 75 प्रतिशत से अधिक एटीएम में पैसा नहीं है, जिस कारण वे बंद पड़े हैं.

पटना में अधिकांश क्षेत्रों के ATM में पैसा नहीं रहने के कारण पैसे के लिए लोग भटक रहे हैं. लोगों का कहना है कि जिस ATM में पैसा है, वहां लंबी कतारें लगी हुई हैं. एक बैंक के मैनेजर ने मंगलवार को बताया कि रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया से मांग के मुताबिक कैश की आपूर्ति नहीं की जा रही है, जिस कारण ऐसी समस्या आई है.

ये भी पढ़ें-पटना में मुस्लिमों की बड़ी रैली, नफरत के खिलाफ 'दीन बचाओ-देश बचाओ' सम्मेलन

वहीं, इस मुद्दे पर राजनीति भी शुरू हो गई है. राष्ट्रीय जनता दल के नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव ने ट्वीट कर केंद्र सरकार पर इस मुद्दे को लेकर निशाना साधा है. उन्होंने ट्वीट कर लिखा, "बिहार में विगत कई दिनों से अधिकांश ATM बिल्कुल खाली हैं. लोगों के सामने गंभीर संकट है. लोगों का बैंकों में जमा अपना पैसा भी बैंक जरूरत के हिसाब से उन्हें नहीं दे रहे हैं. नोटबंदी घोटाले का असर इतना व्यापक है कि बैंको ने हाथ खड़े कर रखे हैं. नए नोट सर्कुलेशन से क्यों गायब है?"

इधर, जनता दल (JDU) के प्रवक्ता नीरज कुमार ने मंगलवार को कहा कि सूचना मिल रही है कि शादी-ब्याह के इस मौसम में एटीएम में कैश नहीं होने के कारण लोग परेशान हैं. उन्होंने कहा कि वित्त मंत्रालय ने इसे गंभीरता से लिया है और जल्द ही इस समस्या का हल ढूंढ लिया जाएगा.

ये भी पढ़ें-लालू ने माली को विधानपरिषद का उम्मीदवार बनाकर किया हैरान

First published: 17 April 2018, 14:53 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी