Home » बिहार » Fodder Scam: Lalu Yadav brought to AIIMS Delhi overnight for treatment
 

चारा घोटाला: इन गंभीर बीमारियों से जूझ रहे लालू, इलाज के लिए AIIMS पहुंचे

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 March 2018, 21:50 IST

चारा घोटाला मामले में सजा काट रहे राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव बेहतर इलाज  के लिए दिल्ली के एम्स अस्पताल पहुंचे. इससे पहले उनका इलाज रांची के राजेंद्र आयुर्विज्ञान संस्थान (रिम्स) में चल रहा था. उनके स्वास्थ्य में सुधार नहीं होने की वजह से रिम्स ने उन्हें एम्स रेफर किया है. रिम्स के मेडिकल बोर्ड की सिफारिश पर झारखंड सरकार ने लालू यादव को एम्स ले जाने की अनुमति दी थी.

लालू रांची से राजधानी एक्सप्रेस से दिल्ली रवाना हुए थे. नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर उन्हें लेने के लिए बेटी मीसा भारती, भोला यादव सहित आरजेडी के कई नेता स्टेशन पर मौजूद थे. हालांकि रेलवे स्टेशन पर उतरने के साथ ही उहोंने मीडिया से कहा ''हमको जेल में बंद करके, भाजपा बिहार में आग लगाए हुई है.''

दो बार मेडिकल बोर्ड की जाँच के बाद मिली दिल्ली जाने की अनुमति

रिम्स मेडिकल बोर्ड ने दो बार लालू यादव को बेहतर उपचार के लिए एम्स भेजने की सलाह दी. इसके बाद उन्हें झारखंड सरकार के  गृह विभाग ने एम्स ले जाने की अनुमति दी. एक सप्ताह पहले भी डॉक्टरों ने उन्हें एम्स ले जाने की सलाह दी थी. लेकिन गृह सचिव ने दोबारा बोर्ड का निर्णय मांगा था.

ये भी पढ़ें- बिहारः पत्रकार समेत दो को स्कॉर्पियो ने रौंदा, पूर्व मुखिया पर लगा हत्या का आरोप

एक हफ्ते से इंसुलिन नहीं ले रहे थे लालू

उनका इलाज कर रहे डॉक्टरों ने बताया कि लालू का शुगर लेवल 280 होने के बाद जब उन्हें इंसुलिन लेने की सलाह दी गई तो उन्होंने मना कर दिया.  इसके बाद डॉक्टरों ने थक-हार कर उनके रिपोर्ट में दवा नहीं लेने की बात लिख डाली. इस बीच उनके किडनी की जांच में भी सब नार्मल नहीं था. सीरम क्रेटनीन भी बढ़कर 1.8 पहुंच गया.

गंभीर बीमारियों जूझ रहे लालू

ख़बरों की मने तो लालू यादव को बहुत सारी जानलेवा बीमारियों ने घेर रखा है. वे अनियंत्रित डायबिटीज़ से पीड़ित हैं. साथ ही वे किडनी में पथरी, यूरिक एसिड, हाइपर यूरिसीमिया, पेरेनियल इंफेक्शन, क्रेटनीन, प्रोस्टेट, जैसी गंभीर बीमारियों का भी सामना कर रहे हैं.

सरकार पर लगाया इलाज में देरी का आरोप

बिहार में राजद के विधायक और लालू प्रसाद के बेहद करीबी भोला यादव ने कहा कि उच्च चिकित्सा संस्थान भेजे जाने की अनुमति देने में सरकार लगातार देर करती रही. गौरतलब है कि लालू पिछले साल 23 दिसंबर से जेल में बंद हैं. और फिलहाल वे चारा घोटाले से जुड़े चार मामलों में रांची के विरसा मुंडा जेल में सजा काट रहे हैं . अभी हाल ही में दुमका कोषागार से जुड़े मामले में उन्हें 14 साल की सजा सुनाई गई है.

First published: 29 March 2018, 21:50 IST
 
अगली कहानी