Home » बिहार » JEE Advanced-2017 Results: 20 Students From Gaya's Patwa Toli Cracked IIT JEE-17 Exam
 

बुनकरों के इस गांव में बुने जाते हैं इंजीनियर

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 June 2017, 12:26 IST

खराब शिक्षा व्यवस्था के लिए बदनाम बिहार में इन दिनों हर कोई टॉपर घोटाले की चर्चा कर रहा है. हर नुक्कड़ और चौराहे पर गणेश कुमार और रूबी रॉय के चर्चे हो रहे हैं. बिहार में छात्रों को टॉप कराने के लिए बाकायदा घोटाला किया जा रहा है, और इसके किस्से चटकारे लेकर सुने और सुनाए जा रहे हैं. सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक और व्हाट्सऐप पर बिहार टॉपर घोटाले को लेकर बहुत से फनी मैसेज देखने को मिल रहे है.

जहां हर तरफ बिहार की बिगड़ी शिक्षा व्यवस्था के चर्चे है, वहीं हम आपको एक ऐसी खबर से रूबरू कराएंगे, जो आपके मन में बिहार के छात्रों के प्रति सम्मान की भावना को कई गुना बढ़ा देगी. हम बात कर रहे हैं गया के उस गांव की, जो 100 फीसदी शुद्ध टॉपर पैदा कर रहा है. गया के पटवाटोली गांव में कुल 20 छात्रों ने JEE-17 के एग्जाम में क्वालीफाई किया है.

गया का पटवाटोली गांव

गया का पटवाटोली गांव बुनकरों की आबादी के लिए जाना जाता है. गांव की 10000 की आबादी में कुल 100 से ऊपर इंजीनियर हैं. इस साल इस गांव के 20 छात्रों ने IIT JEE एडवांस्ड परीक्षा में कामयाबी हासिल की है. पिछले साल ये आंकड़ा 14 और इसके पिछले साल ये आंकड़ा 16 था.

बुनकरों के गांव पटवाटोली में इंजीनियरों की सक्सेस स्टोरी की शुरुआत 1992 में हुई थी. तब से लेकर आज तक अभाव में रहने के बावजूद पटवाटोली गांव के बच्चे लगातार अपने इलाके का नाम रोशन कर रहे हैं. इस गांव के पूर्व इंजीनियरिंग छात्रों ने मिलकर नवप्रयास नाम से एक संस्था बनाई है, जो IIT की परीक्षा देने वाले छात्रों की पढ़ाई में मदद करती है.

First published: 12 June 2017, 12:26 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी