Home » बिहार » Lalu Prasad Double blow: bail denied and ED files chargesheet against Lalu Prasad and his family in IRCTC case
 

लालू यादव को जमानत खारिज होने के बाद IRCTC मामले में लगा बड़ा झटका

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 August 2018, 15:17 IST
(file photo )

राजद प्रमुख और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव को शुक्रवार को दोहरा झटका लगा है. एक तरफ उनकी चारा घोटाले के कई मामलों में दोषी पाए लालू की जमानत अवधि बढ़ाने की याचिका को झारखंड हाई कोर्ट ने खारिज कर दिया है. दूसरी तरफ प्रवर्तन निदेशालय ने आईआरसीटीसी के होटेलों के आवंटन में धन शोधन के मामले में लालू और उनके परिवार के सदस्यों के खिलाफ आरोपपत्र दायर किया है.

मीडिया खबरों के मुताबिक, झारखंड हाईकोर्ट ने लालू प्रसाद यादव की जमानत बढ़ाने की अर्जी को खारिज कर दिया है. लालू यादव ने हाईकोर्ट में मेडिकल आधार पर जमानत अवधि को 3 महीने के लिए आगे बढ़ाने की अपील की थी. जिसको हाईकोर्ट ने खारिज कर दिया है. हाईकोर्ट ने लालू यादव को 30 अगस्त को सरेंडर करने का आदेश दिया है. हाईकोर्ट में सुनवाई के दौरान सीबीआई की तरफ से कहा गया कि लालू यादव मुंबई से इलाज कराकर आते हैं और अपने घर चले जाते हैं. सीबीआई ने कहा कि लालू यादव जमानत का गलत फायदा उठा रहे हैं.

बता दें कि लालू प्रसाद यादव फिलहाल जमानत पर बाहर हैं. उनको इलाज के लिए कोर्ट ने जमानत दी थी. जिसको 10 अगस्त को बढ़ाकर 20 अगस्त तक कर दिया गया था. लालू यादव चारा घोटाले के कई मामलों में दोषी पाए गए हैं. रांची जेल में सजा काटने के दौरान लालू यादव की तबीयत खराब हो गई थी. लालू के वकील प्रभात कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि कोर्ट की ओर से याचिका खारिज होने के बाद अब वह मुंबई से वापस रांची के राजेंद्र इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस जाएंगे जहां उन्हें सबसे पहले भर्ती कराया गया था.

IRCTC होटल आवंटन मामले में चार्जशीट दाखिल

प्रवर्तन निदेशालय ने IRCTC के होटेलों के आवंटन में धन शोधन के मामले में लालू और उनके परिवार के सदस्यों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की है. IRCTC के दो होटलों के आवंटन मामले में कथित भ्रष्टाचार का आरोप है. इसमें कहा गया है कि रेल मंत्री रहते हुए लालू यादव ने आईआरसीटीसी के दो होटेलों के प्रबंधन ठेका सुजाता होटेल्स को दिया. इसके बदले में लालू यादव ने एक बेनामी कंपनी के जरिए पटना में तीन एकड़ का भूखंड लिया गया.

First published: 24 August 2018, 15:14 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी