Home » बिहार » Naxalites allegedly set fire to railway property at the station, two Railways staff abducted in bihar
 

बिहार: नक्‍सलियों ने रेलवे स्टेशन को फूंका, स्टेशन मास्‍टर समेत दो लोगों को किया अगवा

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 December 2017, 11:13 IST

बिहार में नक्सलियों ने मंगलवार रात जमकर तांडव मचाया है. नक्सलियों ने बिहार के मसूदन रेलवे स्टेशन पर हमला किया. नक्सलियों ने रेलवे स्टेशन पर हमला करने के बाद रेलवे स्टेशन में काम करने वाले दो लोगों को अगवा कर दिया. अगवा किये गए लोगों में एक सहायक स्टेशन मास्टर और एक रेलवे स्टॉफ है.

नक्सलियों ने दो लोगों को अगवा करने के बाद रेलवे स्टेशन के सिग्नल पैनल को आग के हवाले कर दिया. इसके बाद उन्होंने रेलवे की आवाजाही भी ठप कर दी. नक्सलियों ने मालदा डीआरएम को फोन करके ट्रेनों की मसूदन ट्रैक पर आवाजाही होने पर अगवा किए गए रेलवे के कर्मचारियों को मारने की धमकी दी है .इसके बाद रेलवे ने सभी यात्रियों को एहतियातन तौर पर अन्य विकल्प से यात्रा करने का अनुरोध किया है. फिलहाल भागलपुर-किऊल रेलखंड पर ट्रेनों की आवाजाही बंद है.

पुलिस के अनुसार, हथियारबंद नक्सलियों ने मंगलवार देर रात करीब 12 बजे स्टेशन पर धावा बोल दिया और वहां सिग्नल पैनल में आग लगा दी. इससे रेलवे टेलीफोन व्यवस्था पूरी तरह ठप हो गई. घटना को अंजाम देने के बाद नक्सली सहायक स्टेशन मास्टर मुकेश कुमार और पोर्टर नीरेंद्र मंडल को अपने साथ लेते चले गए. 

पुलिस के मुताबिक घटना के बाद भागलपुर-किऊल रेलखंड पर ट्रेनों की आवाजाही थोड़ी देर के लिए बाधित रही. हालांकि बाद में सिग्नलिंग पैनल को ठीक कर लिया गया और ट्रेनों की आवजाही शुरू कर दी गई है. वहीं इस मामले में जमालपुर रेल पुलिस अधीक्षक शंकर झा ने बुधवार को बताया कि नक्सली हमले की खबर मिलते ही रेल अधिकारी मौके पर पहुंच गए और इन अगवा कर्मियों को छुड़ाने की कोशिश की जा रही है.

इस घटना के बाद पूर्वी रेलवे के सीआरपीओ ने बताया कि, पूर्वी रेलवे ने  देर रात नक्सलियों के हमले के बाद किऊल- जमालपुर-भागलपुर-रेलखंडपर तीन ट्रेनों को रोक दिया है.  गौरतलब है कि भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) ने 20 दिसंबर को ऑपरेशन ग्रीन हंट और मिशन-2017 के तहत सुरक्षाबलों द्वारा चलाए जा रहे नक्सल विरोधी अभियान के खिलाफ बिहार और झारखंड बंद की घोषणा की है.

इस साल अगस्त के महीने में एक ट्रेन को लखीसराय में नक्सलियों ने अगवा कर लिया था. इससे पहले मार्च में 20 नक्सलियों ने ओडिशा रेलवे स्टेशन पर विस्फोटकों के साथ हमला किया था. उन्होंने एक बम छोटे टिफिन बॉक्स में स्टेशन मास्टर के ऑफिस में और एक बम मालगाड़ी के इंजन के नजदीक स्टेशन पर लगाया था जहां वो रुकती है.

First published: 20 December 2017, 11:13 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी