Home » बिहार » pm modi and nitish kumar gave tribute to alive people of bihar after bus accident in motihari
 

तो क्या जिंदा लोगों को पीएम मोदी और सीएम नीतीश ने दी श्रद्धांजलि!

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 May 2018, 17:55 IST
(File Photo)

गुरुवार को बिहार के मोतिहारी से दर्दनाक बस हादसे की खबर आई. मीडिया रिपोट्स के मुताबिक बिहार के मुजफ्फरपुर से दिल्ली जा रही बस मोतिहारी के पास संतुलन खोकर पलट गई. इस बस में आग लगने से 27 लोगों के मारे जाने की खबर आई. यहां तक कहा गया कि बस में 32 लोग सवार थे और मृतकों की संख्या में इजाफा हो सकता है. लेकिन शनिवार होते-होते हैरान करने वाली खबर आई.

बिहार के आपदा मंत्री दिनेश चंद्र यादव ने न्यूज एजेंसी एएनआई से कहा कि जिस बस में हादसा हुआ, उसमें 13 लोगों की बुकिंग थी. इसमें से 8 लोगों को बचाकर अस्पताल ले जाया गया. 5 लोगों का पता नहीं चला है. मंत्री ने कहा कि हो सकता है कि ये 5 लोग पहले ही उतर गए हों. 

वहीं कल बिहार सरकार ने इस हादसे में मारे गए लोगों के मृतकों के परिवार वालों को 4 लाख रुपये मुआवजा देने की घोषणा की थी. मीडिया में आई खबर के बाद बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने भी घटना पर शोक जताए हुए ट्वीट किया. हैरान करने वाली बात ये है कि उनके मंत्री के बयान के बाद ट्वीट अभी तक उनके ट्विटर अकाउंट पर है.ट्ववीट

बिहार के सीएम ही नहीं पीएम नरेंद्र मोदी ने भी इस घटना पर शोक जताए ट्वीट किया. पीएम मोदी के ऑफिस से किए गए ट्वीट में पीएम मोदी की तरफ से इस घटना पर शोक जताया गया. ये ट्वीट भी पीएमओ की वेबसाइट है. पीएम मोदी और बिहार के सीएम नीतीश के अलावा बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव और बिहार भाजपा के सीनियर नेता और वर्तमान में बिहार के डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने भी ट्ववीट कर शोक जताया है.

हालांकि खुद बिहार के आपदा मंत्री ने कल दिनेश चंद्र यादव ने मौतों की संख्या को लेकर कल बयान दिया था कि इस हादसे में 27 लोगों की मौत हो गई है. आज मामले पर सफाई देते हुए उन्होंने कहा कि हां मैंने कहा कि 27 लोग मारे गए हैं, लेकिन यह जानकारी स्थानीय स्रोतों पर आधारित थी. इसके साथ मैंने यह भी तो कहा था कि अंतिम रिपोर्ट के आने के बाद ही बस हादसे में हुई मौतों के बारें में पता चलेगा.

इस बयान के बाद बिहार में हुए इस भयानक हादसे पर संस्पेंस खड़ा हो गया है. अब फोरेसिंक जांच के बाद ही पता चल पाएगा कि क्या इस हादसे में सच में जानें गई हैं या फिर ये महज एक अफवाह थी जो मीडिया में आने के बाद पूरे देश में आग की तरह फैली और सब इस अफवाह का शिकार हो गए.

First published: 4 May 2018, 17:55 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी