Home » बिहार » RJD supremo Lalu Yadav reaches Ranchi, admitted to RIMS
 

लालू यादव: रिम्स में इलाज के बाद बोले डॉक्टर- उम्र का तकाजा है उनकी बीमारी

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 May 2018, 12:49 IST

चारा घोटाला मामले में सजा काट रहे बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री व राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव मंगलवार को एम्स से रांची सि्थत रिम्स लाया गया. उन्हें कड़ी सुरक्षा के बीच रिम्स ले जाया गया. सुरक्षा घेरे में सीधे उन्हें रिम्स के सुपरस्पेशियलिटी ब्लॉक में भर्ती कराया गया.

इस दौरान रांची रेलवे स्टेशन से लेकर रिम्स तक सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए. उनकी सुरक्षा में 4 मजिस्ट्रेट, 2 डीएसपी और 150 अतिरिक्त जवानों की तैनाती की गई. आपको बता दें, इससे पहले चारा घोटाला मामले में जेल की सजा काट रहे लालू प्रसाद यादव का AIIMS में इलाज चल रहा था.जहां से उन्हें सोमवार को छुट्टी दे दी गई. जिसके बाद उन्हें रांची के रिम्स में रेफर किया गया था.

ये भी पढ़ें-रांची अस्पताल पहुंचने से पहले ट्रेन में खराब हुई लालू की तबियत, इमरजेंसी में बुलाया गया डॉक्टर

 

गौैरतलब है कि, चारा घोटाला मामले में जेल की सजा काट रहे लालू प्रसाद यादव का RIMS में इलाज चल रहा था. जहां से उन्हें कल छुट्टी दे दी गई. लालू को अस्पताल ले जाने के दौरान डॉक्टरों की एक टीम एंबुलेंस में मौजूद थी. लालू का चेकअप करने के बाद रिम्स के डॉक्टर लाल मांझी ने कहा कि लालू प्रसाद ठीक हैं, उनकी जो भी बीमारी है वह सिर्फ उम्र का तकाजा है. अकसर बड़ी उम्र में इस तरह की परेशानियां होती हैं.

ये भी पढ़ें-चारा घोटाला: इन गंभीर बीमारियों से जूझ रहे लालू, इलाज के लिए AIIMS पहुंचे

कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए जिला प्रशासन ने रांची रेलवे स्टेशन और रिम्स में दो-दो मजिस्ट्रेट तैनात किये था. स्टेशन पर मजिस्ट्रेट के रूप में कांके के अंचलाधिकारी प्रभात भूषण सिंह और खलारी के सीओ सच्चिदानंद प्रसाद को प्रतिनियुक्त किया. जबकि रिम्स में नगड़ी के सीओ दिवाकर द्विवेदी और ओरमांझी के सीओ राजेश कुमार को प्रतिनियुक्त किया गया था.

First published: 1 May 2018, 12:50 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी